WordPress kya hai| और WP पर blog website कैसे बनाएं?

WordPress kya hai और WP पर blog website कैसे बनाएं ?

क्या आप भी इंटरनेट की दुनिया में पैसा कमाना चाहते हैं, तो आपके सामने Blog या Website बनाने का विकल्प जरूर आया होगा।

और बहुत-सारे लोगों ने ऑनलाइन कमाई के लिए Free Blogger Platform को चुना होगा, लेकिन इसके साथ उन्होने wordpress का नाम भी जरूर सुना होगा। तो आखिर यह WordPress kya hai और wordpress पर ब्लॉग वेबसाइट कैसे बना सकते है?

लोग मानते हैं कि वर्डप्रेस ब्लॉग बनाने के लिए है, और यह बात कुछ हद तक सही भी है, क्योंकि आज वर्डप्रेस दुनिया का सबसे popular content management system बन चुका है।और अब यह बहुत सारी सुविधाएं उपलब्ध करवाता है।

दुनिया में 7 करोड़ से भी ज्यादा वेबसाइट वर्डप्रेस के द्वारा ही control हो रही है। हालांकि वर्डप्रेस की शूरूआत 2003 में Blogging Tool के रूप में की गयी थी, लेकिन अब यह पूरी तरह से बदलकर अनगिनत सुविधाएं दे रहा है।

और हमारे आज के इस लेख का विषय भी यही है कि WordPress kya hai और WP पर blog website कैसे बनाएं तो यदि आप भी वर्डप्रेस के बारे में पूरी जानकारी चाहते हैं तो हमारे आज के इस लेख पर अंत तक बनें रहें इस लेख को पढ़कर आप आसानी से वर्डप्रेस के बारे में सबकुछ जान पाएंगे

WordPress kya hai- What is WordPress

यह एक प्रकार का वेबसाइट या ब्लोग creator tool है, जिसे content management system (CMS) भी कहा जाता है। यह एक प्लेटफोर्म है, जहां पर एक सामान्य व्यक्ति भी professional website या blog बना सकता है।

इसका इस्तेमाल वेब सर्वर (इंटरनेट) पर किया जाता है। वर्डप्रेस को PHP और MySQL (database) से बनाया गया है, जो युजर्स को बहुत आसान-सा interface provide करता है। यहां पर आप बिना HTML coding ज्ञान के भी वेबसाइट को बना सकते है।

पहले के समय में केवल वही वेबसाइट बना सकता था, जिसे HTML coding, jawa scripts आदि की जानकारियां होती है। उसके बाद भी उन्हें website developer की जरूरत पड़ती हैं। लेकिन wordpress  आपको इतना आसान interface देता है कि आप इनके बिना भी एक professional website बना सकते है।

दुनिया में 36% वेबसाइट्स वर्डप्रेस का इस्तेमाल करते हैं। हालांकि इसके अलावा भी CMS मौजुद हैं, जहां से अलग-अलग उद्देश्य के लिए वेबसाइट बना सकते है। जैसे- Joomla, Drupal, Magento, Typo3 आदि।

वर्डप्रेस क्या है: – एक ऐसा प्लेटफोर्म जहां पर आप अपनी वेबसाइट के कंटेंट को create, edit, delete and update कर सकते है। यह प्लेटफोर्म आपको फ्री और paid दोनो रूपों में मिलता हैं।

वर्डप्रेस का इतिहास क्या है (WordPress history in Hindi)

वर्डप्रेस को माइक लिटिल और मैट मुलेनवेग ने 27 मई, 2003 में बनाकर लॉंच किया था। wordpress को उस समय B2/cafelog के नाम से जाना जाता था। और मैट मुलेनवेग इसी cafelog का उपयोग करते थे, अर्थात् वे b2/cafelog की कंपनी के सदस्य नही थे।

b2/cafeblog के founder Michel valdrighi ने किसी कारण से अपडेट देना बंद कर दिया, लेकिन अपडेट और नये फिचर्स को लाना भी जरूरी था, ताकि पुराने bug सही किये जा सके।

उस समय b2/cafeblog platform एक general bublic license प्लेटफोर्म था, जहां पर कोई भी काम कर सकता था। तभी मैट मुलेनवेग ने माइक लिटिल के साथ मिलकर नये अपडेट को लॉंच किया। लेकिन उनके अपडेट्स ने लोगों का दिल जीत लिया और वे b2/cafelog के फाउंडर और को-फाउंडर बन गये।

उन्होने निम्न प्रकार से अपडेट दिये थें:

  • 2003: 27 may, 2003 को दोनों ने मिलकर wordpress का पहला version launch किया था।
  • 2004: वर्डप्रेस में Plugins features को सबसे पहले मई,2004 में जोड़ा गया था।
  • 2005: इस वर्ष वर्डप्रेस में सबसे पहला theme features को जोड़ा गया था। और साथ ही .com वर्जन को लॉंच किया गया था।
  • 2006: में वर्डप्रेस और logo के लिए trademark registration किया गया था।
  • 2007: में नया interface design किया गया और auto save, spell checking जैसे और भी अन्य features जोड़े गये।
  • 2010: को WordPress open source घोषित किया गया।

Other interesting points:

वर्डप्रेस का नाम- यह नाम मुलेनवेग के एक मित्र क्रिस्टीन सेलेक ट्रेमलेट ने दिया था।

वर्डप्रेस लॉंच- वर्डप्रेस का सबसे पहला वर्जन 0.7 को 27 मई 2003 में लॉंच किया गया और अगला वर्जन 0.1 जनवरी 2004 को लॉंच किया गया।

WordPress के features क्या क्या हैं

वर्डप्रेस में अनको फिचर्स को जोड़े गये हैं। इसलिए हम यहां पर कुछ फिचर्स के बारे में आपको बताएंगें, जिनकी वजह से वर्डप्रेस को सबसे ज्यादा चुना जा रहा हैं। ये फिचर्स कुछ इस प्रकार हैं:

  1. Plugins:

यह वर्डप्रेस का सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला फिचर है। प्लगइंस की मदद से आप बहुत ही आसानी से वेबसाइट को डिजाइन कर सकते हैं और अपनी वेबसाइट को automatic भी बना सकते हैं।

Plugin की सुविधा की वजह से आपको coding सिखने की कोई जरूरत नही है। इन्हे वर्डप्रेस में सिर्फ एक क्लिक के साथ इंस्टोल किया जाता हैं, और उसे आप इसका उपयोग आसानी से कर सकते हैं।

यह प्लगइंस free and paise दोनो प्रकार के मिलते है। अगर आप beginners हैं, तो हम इस आर्टिकल में कुछ महत्वपूर्ण प्लगइंस की जानकारी देंगे।

  1. Themes-

वर्डप्रेस पर वेबसाइट बनाने के लिए आपको कोई भी एक थीम चुननी होगी। जिससे आप सिर्फ एक क्लिक के साथ एक डिजाइनर वेबसाइट बना सकते है। मतलब आपको फ्री में तैयार की हुई वेबसाइट मिल जाती है। यहां पर आपको सिर्फ आर्टिकल publish करने हैं।

  1. SEO for your articles and website-

आज दुनिया में करोड़ो लोग वेबसाइट बनाकर छोड़ देते है। क्योंकि वे आर्टिकल तो publish करते हैं, लेकिन SEO (Search Engine Optimizations) नही कर पाते हैं। जिसकी वजह से उन्हे ट्राफिक नही मिल पाता है। लेकिन यह आर्टिकल आपको SEO के लिए भी plugins (Rankmath, Yoast SEO plugin आदि)  मिलते हैं, जिसकी मदद से आप बहुत आसानी से अपने आर्टिकल को रैंक करा सकते हैं।

  1. Media management-

यह आपको images, videos And files आदि को मैनेजमेंट करने की अच्छी सुविधा देता है। यहां से आप अपने वेबसाइट को पूरी तरह से सुरक्षित रख सकते हैं। ब्लोगर में मीडिया मैनेजमेंट का खतरा रहता हैं, लेकिन यहां पर ऐसा कुछ भी नही है।

यहां पर आप अपने आर्टिकल में सभी फाइल्स और इमेजेज को अच्छे से व्यवस्थित कर सकते है।

  1. Users management-

आज के समय में अकेले वर्डप्रेस को हैंडल का आसान नही हैं, इसलिए वर्डप्रेस आपको एक से अधिक व्यक्तियों से साथ सुरक्षित रूप से काम करने की सुविधा देता है। मतलब आप अगर एक community भी बनाते है, तो आपकी वेबसाइट सुरक्षित रहेगी।

  1. Multi Language-

यहां पर आप वर्डप्रेस को अलग-अलग भाषा का सपोर्ट देता है। मतलब आप इसे अपनी भाषा में उपयोग कर सकते है।

  1. Supporting system-

जैसा की हम सब जानते है कि  वर्डप्रेस पूरी दुनिया में पॉपुलर हैं, तो वर्डप्रेस को और ज्यादा आसान बनाने के लिए community को तैयार किया गया, जो आपके सभी सवालों के जवाब देता है।

Types of WordPress in Hindi

अगर आप एक प्रोफेशनल वेबसाइट बनाने की सोच रहे हैं, तो सबसे पहले आपके समाने वर्डप्रेस का ही ऑपशन आता है। लेकिन अब वर्डप्रेस का विकल्प आता है, तो उसमें भी एक confusion आता हैं कि wordpress.com और wordpress.org क्या हैं?, कौनसा सही हैं और इन दोनो में अतंर क्या हैं? आदि।

  • WordPress.com
  • WordPress.org

तो चलिए हम इन दोनो बिंदुओं को अच्छे समझने की कोशिश करते हैं। जहां हम सबसे पहले wordpress.com के बारे में जानेंगे कि

WordPress.com क्या है

बहुत सारे लोग वेबसाइट तो बनाना चाहते हैं लेकिन उनके पास पैसे नही होते हैं या फिर कम पैसे होते हैं, तो wordpress.com वेबसाइट आपको Free औऱ paid दोनो प्रकारी सुविधा देता हैं।

मतलब wordpress.com पर आप अपनी वेबसाइट फ्री में बना सकते है। जो आपको डेमों के लिए दि जाती है। इस डेमों में आपको एक सब डोमेन दिया हैं, उदाहरण- studysir.wordpress.com

यहां पर  ‘studysir’ एक सबडोमेन है, जबकी मूल डोमेन नेम wordpress.com है। जिस पर आपका कोई अधिकार नही है।

यहां पर आप डेमों के उद्देश्य से वेबसाइट बना सकते हैं। लेकिन इस डोमेन पर आपका कोई अधिकार नही होगा, यह आपको एक सीमित सीमा तक मिलेगा और policy violence कंटेंट मिलने पर आप अपनी वेबसाइट खो देंगे। तो यह था wordpress.com का कारनामा।

अब हम बात करेंगे, wordpress.org   के बारे में।

wordpress.org क्या है

यह ठीक wordpress.com का विपरीत हैं। मतलब यहां पर आपको अपनी वेबसाइट पर असीमित नियंत्रण मिलता है, यहां पर आप अपनी सुरक्षित वेबसाइट बना सकते है। इसके अलावा इस wordpress.org में आपको अनगिन और सभी फिचर्स मिलते हैं। लेकिन इसके शर्तें है कि आपको एक personal domain name (studysir.com) और एक होस्टिंग कंपनी से होस्टिंग खरिदनी होगी। इसके बाद आप इन सभी सुविधाओं का लाभ ले सकते है।

अब हम wordpress.com और wordpress.org दोनो में अंतर को देखेंगे, ताकि आपके सारे confusions एक साथ दूर हो जाएं।

WordPress.com और wordpress.org इन दोनो में क्यां अंतर है

WordPress.com WordPress.org
यह आपको free and paid दोनो प्रकार से मिलती हैं। यह केवल Paid सुविधा है।
यहां पर आपकी वेबसाइट को wordpress.com नियंत्रित करता है। इसमें सिर्फ आप ही वेबसाइट को नियंत्रित करेंगे।
.com पर आप एक निश्चित समय के लिए वेबसाइट बना सकते है। यहां पर आप अपने अनुसार वेबसाइट की उम्र को बढ़ा सकते है।
यहां पर आपको सभी फिचर्स नहीं मिल जाते हैं। इसमें आपको सभी फिचर्स को उपयोग करने की आजादी होती है।
यह सीमीत थीम देता है लेकिन यहां पर सभी थीम का उपयोग कर सकते है।
यहां आप सीमित plugins का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन यहां पर आप सभी plugins का इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि प्रीमीयम plugins खरिदना पड़ सकता है।
आपकी वेबसाइट के डाटा सुरक्षित नही रहते है, बल्कि यहां पर आपके सभी डाटा को सुरक्षित रखा जा सकता है।
यहां पर निर्मित वेबसाइट पर कम ध्यान दिया जाता है, क्योंकि यहां पर निर्मित वेबसाइट का मूल स्थिति नहीं होती है। उदाहरण- studysir.wordpress.com लेकिन यहां पर निर्मित वेबसाइट का एक स्थायी डोमेन नेम (studysir.com) होता है। इसलिए गुगल इस जल्दी इंडेक्स करता है।
यहां पर आपकी वेबसाइट में violence कंटेंट का उपयोग करने से बंद कर दिया जाता है। इसके अलावा एक निश्चित सीमा समाप्त होने पर भी वेबसाइट को ऑटोमेटिकल बंद कर दिया जाता है। यहां पर वेबसाइट को बंद करना सिर्फ आपके हाथ में है।

शायद अब आपके सारे confusions दूर हो गये होंगे कि wordpress.com और wordpress.org में अंतर क्या हैं।

WordPress.com पर वेबसाइट कैसे बनाए-

इसके लिए आपको सर्वप्रथम wordpress.com की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। यहां पर आपको डोमेन और होस्टिंग खरिदने की जरूरत नही है। यहां पर वेबसाइट बनाने के लिए सिर्फ आपके पास एक ईमेल अकाउंट चाहिए, अब आप इन steps को follow करें मैं यहां पर मोबाइल फोन की मदद से वर्डप्रेस पर ब्लॉग बनाकर दिखा रहा हूं

Step: 1 जब आप ऊपर दिए लिंक पर क्लिक करते हैं या गूगल करतेे wordpress.com तब नीचे दिखाए गए पेज पर आते हैं अब यहां आपको अपना ईमेल आईडी और पासवर्ड दर्ज करना और create your account पर क्लिक करना रहता है आप चाहें तो गूगल या एप्पल अकाउंट से भी लॉगइन कर सकते हैं|

Step:2 अब आप इस पेज में एक Domain name चुनें और सर्च पर टैब करें

Step:3  टैब करने पर नीचे different types domain name देखने को मिल जाते हैं लेकिन आपको “studybloghindi.wordpress.com” यानी जो नाम आपने डोमेन के लिए सर्च किया था उसके आगे डाट वर्डप्रेस डाट कॉम को ही चुनना होगा यदि आप किसी दूसरे डोमेन को चुुुुनते हैं तो उनके लिए आपको पैसे पे करना होगा मैं यहां तीसरे स्थान पर दिखाए गए studybloghindi.wordpress.com को सलेक्ट करूंगा

Step: 4 select करते ही आप आगे बढ़ जाते हैं जैसा कि इमेज पर दिखाया गया है अब आपको start with a free site पर क्लिक करना होगा

Step: 5 अब आपको अगला पेज कुछ इस प्रकार देखने को मिलेगा यहां पर आपको सबसे पहले अपना Email पर जाकर verify करना है

Step: 6 email verify करने के बाद अब आप अपने wordpress dashboard पर होंगे जैसा कि इमेज पर दिख रहा है तो इस तरह आप wordpress.com पर website बना सकते हैं

WordPress.org पर वेबसाइट कैसे बनाए-

यहां पर वेबसाइट बनाने के लिए नीचे दिये गये complete प्रक्रिया को फोलो करें।

WP पर website कैसे बनाये और हमें किन किन resources की जरूरत होगी

अब हम अपने मुख्य टॉपिक आ रहे हैं कि आखिर  WP पर वेबसाइट कैस बनाए और वेबसाइट बनाने के लिए हमें किन किन resources की जरूरत पड़ेगी? WordPress पर एक सुरक्षित और complete वेबसाइट बनाने के लिए कम से कम दो resources की आवश्यकता होती हैं।

WP website के लिए जरूरी resources

  1. Domain name
  2. Web Hosting

अगर आपके पास ये दोनो चीजे हैं तो आप एक अच्छी और सुरक्षित वेबसाइट आसानी से बना सकते है। हालांकि हो सकता हैं, आप एक beginner हो, तो चिंता बिल्कुल न करें। हम इस पर भी अच्छे से चर्चा करेंगे। मतलब आप इस आर्टिकल की मदद से एक अच्छी वेबसाइट बनाना सिख ही जाएंगे।

WordPress पर वेबसाइट कैसे बनाये, इसके लिए आपको निम्न चरणों को फोलो करना चाहिए।

  1. Buy Domain name
  2. Buy Web hosting
  3. Install WordPress And Create wordpress website
  4. WordPress का उपयोग कैसे करे
  5. WordPress website के लिए थीम को इंस्टॉल करें
  6. महत्वपूर्ण प्लगइन्स को इंस्टॉल करे

हम सबसे पहले domain को अच्छे से समझेंगे-

1. Buy Domain name

वेबसाइट की शुरूआत करने के लिए आपको एक डोमेन नेम खरिदने की जरूरत है। और समझने की जरूरत है कि डोमेन नेम क्या है? इसे हम विस्तार से कुछ इस प्रकार समझ सकते है।

Domain name क्या है

Domain name का मतलब होता है कि Domain naming system, मतलब एक ऐसा नामकरण जिसे हम किसी वेबसाइट को आसानी से याद रखकर, उसे identify कर सकते हैं। मतलब एक आसान नाम को याद करके उसे गुगल पर ढुंढा जाता है। जैसे- studysir.com

इसे डोमेन कहा जाता है जिसे आसानी से गुगल सर्च में टाइप करके सर्च कर सकते हैं। लेकिन हर वेबसाइट IP address (Internet protocol address) से जुड़ी होती है  और यह IP address बहुत ही पेचिदा और numerical address होता है। इस एड्रेस को याद करना आसान नही हैं, इसलिए एक आसान सा डोमेन नाम बनाया गया है।

Domain name: साधारण भाषा में कहे तो एक जटिल IP address का सरल रूप है। जिसे human की readable क्षमता के आधार पर बनाया जाता है।

उदाहरण- https://studysir.com/about/iosdi-ow094-sd09 यह एक युआरएल है। जिसमें studysir.com एक Domain name है और .com डोमेन है।

काम कैसे करता है

सभी वेबसाइट इंटरनेट सर्वर पर होस्ट किये जाते है और ये domain name उसी सर्वर के IP address को टारेगट करता है। मतलब जब आप url bar में domain name डालते हैं, तो यह वेबसाइट के server IP address को टारगेट करके आपको वहां तक पहुंचाता है और आपके समाने वह वेबसाइट खुल जाती है।

डोमेन के प्रकार

ये दो प्रकार के होते हैं, जो निम्न प्रकार हैं:

  1. Top Level Domain-

इस आप डोमेन नेम का extension भी कहा जाता है। मतलब ‘studysir.com’ डोमेन नेम में .com एक TLD है। जिसे हम कभी खरिद सकते है। इन डोमेन को गुगल में आसानी से रैंक कर सकते है। उदाहरण:

  • .com
  • .org
  • .net
  • .edu
  • .gov आदि।
  1. Country code Top Level Domains

इन डोमेन का इस्तेमाल ज्यादा एक specific country के लिए किया जाता है। उदाहरण:

  • .us (United States country)
  • .in (India)
  • .cn (China)
  • .ru (Russia) आदि।

Subdmain name क्या है

यह आपके मुख्य डोमेन नेम (TLD) का अंश होता है, जिसे आप फ्री में बना सकते है। इसे खरिदने की आवश्यकता नही होती। इसे हम उदाहरण से समझेंगे-

“Studysir.com” यह मेरा टॉप लेवल डोमेन नेम है और इसे हम कुछ इस प्रकार subdomain name में devide कर सकते हैं। जैसे- Hindi.studysir.com या English.studysir.com (यहां पर Hindi. और English. दोनो ही subdomain है।

नोट- डोमेन दो और तीन अक्षरों में भी हो सकते हैं। जैसे- studysir.co.in या studysir.com.edu

Best Domain name provider websites

यहां पर कुछ वेबसाइट्स की एक लिस्ट दी गयी है, जहां से आप डोमेन नेम को खरिद सकते है।

नोट: यह डोमेन unique तैयार किये जाते है। अत: आप भी अपने niche से संबंधित unique डोमेन नेम को सोचे और उसे खरिदे।

  • Bigrock
  • Godaddy
  • Namecheap
  • com
  • Eweb guru

यह कुछ प्रसिद्ध डोमेन प्रोवाइडर वेबसाइट्स है, जहां से आप सुरक्षित होकर डोमेन नेम खरिद सकते है।

नोट: हमारी सलाह है कि आप डोमेन नेम वेब होस्टींग के साथ ही खरिदे। ताकि आपको एक ही कंपनी से दोनो सुविधाएं मिल सके और उन्हे नियंत्रित करना भी आसान है।

डोमेन नेम कैसे चुने

डोमेन आप कुछ इस प्रकार चुन सकते हैं, जैसे-

  1. unique और short name को सोचे
  2. यह short name आपकी niche से संबंधित होना चाहिए
  3. ऐसा नाम चुने, जिसे आसानी से याद कर सके
  4. डोमेन नेम में hidden number या words न रखे
  5. डोमेन नेम समझने में आसान होना चाहिए।

डोमेन नेम लेने के बाद आप इसे आप ब्लोगर (फ्री वेबसाइ) या वर्डप्रेस (paid website), किसी के साथ भी जोड़ सकते है। हम वर्डप्रेस के लिए आर्टिकल लिख रहे हैं तो हम वर्डप्रेस के साथ डोमेन को जोडेंगे।

डोमेन को होस्टींग से कैसे जोड़े

डोमेन नेम को होस्टींग के साथ जोड़ने के लिए आपके पास तीन चीजें होनी चाहिए- domain name, Webhosting औऱ name server। अगर यह चीजे हैं तो आप निम्न प्रक्रिया से डोमेन को होस्टींग के साथ जोड़ सकते है।

  1. जहां से आपने डोमेन नेम खरिदा है, वहां पर लॉग इन करे।
  2. अब अपने प्रोफाइल के my product सेक्शन में जाएं।
  3. DNS (domain name server) पर क्लिक करे।
  4. अब अपने ईमेल अकाउंट में जाएं, और उस ईमेल को खोले, जिसे आपके होस्टिंग provider कंपनी ने भेजा है। उस mail में आपको ‘Name server 1’ और ‘name server 2’ मिला होगा। उसे एक-एक करके कॉपी करें।
  5. अब अपने Godday अकांउट (डोमेन नेम प्रोवाइडर) में जाए और name server ऑपशन में इन दोनो name server को पेस्ट करे। नेम सर्वर को बदलने से पहले drop-down लिस्ट में custom को सेलेक्ट करे।
  6. अब सेटिंग को सेव कर ले। और इस प्रकार आपका डोमेन नेम होस्टिंग के साथ जुड़ जाएगा।

नोट: अगर आपको name server की ईमेल नही मिली हैं, तो आप अपने होस्टिंग प्रोवाइडर कंपनी के पास जाकर भी name server को प्राप्त करके सकते है। इसके लिए आप यूट्यूब की मदद ले सकते है।

2. Buy Web hosting

एक अच्छी और सुरक्षित वेबसाइट बनाने के लिए दूसरी महत्वपूर्ण चीज वेब होस्टिंग है। यहां पर हम अपने डोमेन नेम को होस्ट करते हैं और एक वेबसाइट को बनाते है। इस टॉपिक पर हम पूरी चर्चा करेंगे। लेकिन जान लेते है कि वेब होस्टिंग क्या है, इसे कहां से और कैसे खरिद सकते है। इसका उपयोग क्या है। इसके बारे में भी हम यहां जानेंगे।

वेब होस्टिंग क्या है

यह एक प्रकार की ऑनलाइन सेवा हैं, जो अलग-अलग कंपनीयों के द्वारा दी जाती है। ऑनलाइन सेवा का मतलब आपकी वेबसाइट को इंटरनेट सर्वर पर रखने की अनुमति देना। और वेब होस्टिंग खरिदने का मतलब भी यही हैं कि आप इंटरनेट सर्वर पर अपनी वेबसाइट के लिए एक स्थान किराये पर ले रहे है।

एक अच्छी वेब होस्टिंग कंपनी का मतलब होता हैं कि उसके पास ज्यादा डाटाबेस मौजुद है और साथ उसका सर्वर भी अच्छा है। अगर आप ऐसी कंपनी से होस्टिंग खरिदते हैं तो आप अपनी वेबसाइट को ज्यादा अच्छे से सर्वर पर रैंक करवा सकते है।

दुनिया की प्रत्येक वेबसाइट के टेक्स्ट, HTML pages, images और videos आदि किसी न किसी होस्टिंग कंपनी के होस्टिंग सर्वर पर अपलोड किये जाते है। और इन्हे पुरी दुनियां url के द्वारा देखा जा सकता है।

वेब होस्टिंग के प्रकार

आज के समय में वेबसाइट्स को बहुत-सारे उद्देश्यों के लिए तैयार किया जाता है, और इन्ही उद्देशयों को पूरा करने के लिए अलग-अलग प्रकार की होस्टिंग को बनाया गया है। जैसें-

  1. Shared Web Hosting
  2. Reseller Web hosting
  3. VPS web hosting (Virtual Private server)
  4. Dedicated Web hosting
  5. Cloud Web hosting

इन्हे हम एक-एक करके अच्छे से समने की कोशिश करेंगे।

Shared Webhosting in Hindi

इसे common server hosting भी कह सकते है। क्योंकि इस प्रकार की होस्टिंग में एक साथ कई सारी वेबसाइट को होस्ट किया जाता है, मतलब उन सभी वेबसाइट की फाइल्स को एक सर्वर पर अपलोड किया जाता है, इसलिए इसे shared webhosting कहा जाता है।

अगर आप ब्लोगिंग क्षेत्र में beginner है तो आपको इसी होस्टिंग को खरिदना चाहिए।  क्योंकि यह होस्टिंग आपको सस्ती प्राइस में मिलती है। और इस होस्टिंग में आपको तब तक कोई समस्या नही होगी, जब तक की आपकी वेबसाइट पर हजारो या लाखों में ट्राफिक नही जा जाता ।

हालांकि एक सर्वर पर बहुत सारी वेबसाइट की फाइल्स को अपलोड करने से आपकी कुछ हद तक धीमी लोड हो सकती है।

इसके फायदे:

  • यह साधारण वेबसाइट के लिए सही है।
  • यहां पर वेबसाइट को सेटअप करना और इस्तेमाल करना आसान है।
  • यह होस्टिंग प्लान आपको सस्ते में मिल जाता है।
  • यहां पर आपको user friendly Control panel मिल जाता है।

इसके नुकसान

  • एक ही सर्वर पर अधिक वेबसाइट होने से आपकी वेबसाइट लॉडिंग टाइम down में चला जाता है।
  • यहां पर आपको लिमिट में resources access मिलता है।
  • इस होस्टिंग पर कोई भी कंपनी ज्यादा अच्छा सपोर्ट नहीं देती है।

Reseller Web hosting in Hindi

इस होस्टिंग प्रकार से आप होस्टिंग को बेंचने का व्यवसाय कर सकते है। यह शेयर्ड होस्टिंग के समान ही है, फर्क इतना है कि शेयर्ड होस्टिंग में आप पांच वेबसाइट को एक कंट्रोल पेनल से हैंडल कर सकते हैं। लेकिन रिसेलर होस्टिंग में आपको प्रत्येक वेबसाइट के लिए अलग-अलग कंट्रोल पैनल मिलता है।

मतलब आप किसी एक रिसेलर होस्टिंग प्लान को खरिदे, उसके बाद अलग-अलग लोगों को उनकी वेबसाइट के अलग-अलग कंट्रोल पैनल दे सकते है। और इसके बदले आप पैसे कमा सकते है।

VPS web hosting in Hindi

यह होस्टिंग प्रकार भी शेयर्ड होस्टिंग के समान ही माना जाता है। यहां पर सर्वर सुविधाओं को वर्चुअल सर्वर पर विभाजित कर दिया जाता है। जैसे-

अगर आप कंप्यूटर चालते हैं, आपके कंप्युटर में एक ही हार्ड डिस्क होती है, लेकिन उस हार्ड डिस्क को हम अपने कंप्यूटर में कई सारे पार्टिशन में विभाजित कर देते है।  इसी तरह से वर्चुअल प्राइवेट सर्वर भी एक common सर्वर पर होस्ट रहता है।

यह शेयर्ड होस्टिंग से अधिक स्पेस, server power और bandwidth प्रदान करता है। जिसके कारण आपकी वेबसाइट बहुत कम समय में खुल जाती हैं, और साथ आपकी वेबसाइट ज्यादा सुरक्षित रहती है।

अगर आपकी वेबसाइट पर अनगिनत ट्राफिक आ रहा हैं , तो यह विकल्प आपके लिए सही है।

इसके फायदे

  • यहां पर आपको Full और secure control मिलता है।
  • इस होस्टिंग का प्रयोग अधिक ट्राफिक आने पर किया जा सकता है।
  • यह आपकी वेबसाइट को ज्यादा flexibility प्रदान करता है।
  • यहां पर वेबसाइट के अनुसार memory और bandwidth को बढ़ा सकते है।
  • यह shared hosting से महंगी है, लेकिन dedicated hosting से कम प्राइस मिलती है, जिसे सामान्य व्यक्ति खरिद सकता है।
  • यह होस्टिंग आपको सुरक्षा और अच्छा सपोर्ट देती है।

इसके नुकसान

  • यहां पर dedicated hosting से कम resources मिलते हैं।
  • इसका उपयोग टेक्नीकल ज्ञान के साथ किया जाता है।

Dedicated hosting in Hindi

यहां पर आपको आपकी वेबसाइट के लिए personal server प्रदान किया जाता है। जिस पर सिर्फ आपकी वेबसाइट का ही अधिकार होगा। हालांकि यह बहुत महंगी होती है, क्योंकि यहां पर आपके लिए अलग से एक सर्वर को निर्धारित किया जाता है।

इसके फायदे

  • यहां पर full control, flexibility और full security मिलती है।
  • यह सुविधा स्थायी होती है।

इसके नुकसान

  • यह होस्टिंग बहुत महंगी होती है।
  • इसे एक व्यक्ति से हैंडल नही किया जा सकता।
  • इसके लिए आपको technicians की आवश्यकता पड़ेगी।

Cloud web hosting in hindi

क्लाउड होस्टिग बहुत सारे वेब सर्वर का एक ग्रुप होता है, जो अलग-अलग देशों के सर्वर के साथ जुड़ा होता है। मतलब सभी सर्वर को इंटरनेट से जोड़कर एक वर्चुअल सर्वर बनाया जाता है, जिसे क्लाउड होस्टिंग कहते है।

उदाहरण- अगर आपकी वेबसाइट इंडिया में है,  और उसे कोई अमेरीकी में सर्च कर रहा हैं, तो क्लाउंड अमेरिका के किसी नजदीकी सर्वर से सपर्क करके आपकी वेबसाइट को खोलता हैं। इससे आपकी वेबसाइट का प्रफोर्मेंश बना रहता है।

इसके फायदे

  • आपकी वेबसाइट बहुत कम down होती है।
  • इससे ज्यादा ट्राफिक को आसानी से हैंडल कर सकते है।

इसके नुकसान

  • इसमें root access नही मिलता।
  • अन्य से यह काफी महंगी है।

WordPress के लिए बेस्ट वेब होस्टिंग कंपनी 2021

हमने यहां पर कुछ बेस्ट होस्टिंग कंपनीयों की लिस्टी है। जहां से आप एक अच्छा वेब होस्टिंग खरिद सकते है। यह लिस्ट निम्नलिखित हैं।

Hostinger.com

इस कंपनी को ऑल-अराउंर माना जाता है। मतलब यह आपको होस्टिंग से संबंधित सभी सुविधाए प्रदान करता है। इसके अलावा यह होस्टिंग भारत में सबसे ज्यादा खरीदी जाती है।

इसके शेयर्ड होस्टिंग के प्लान्स 59/month, 119/month और 229/month हैं। यहां पर आपको कीफायती कीमत में होस्टिंग मिलती है।

Bluehost.com

इस होस्टिंग कंपनी को ग्राहक सेवा के लिए बेस्ट माना जाता है। अगर आप अपने वर्डप्रेस के लिए एक बेस्ट होस्टींग कंपनी की तलाश कर रहे हैं, तो यह आपके  लिए बेस्ट विकल्प है। यहां शेयर्ड होस्टिंग के प्लान्स $2.95/month, $5.45/month, $7.54/month और $13.95/month है।

Hostgator.com

इस होस्टिंग कंपनी को स्टोरेड स्पेस के लिए सबसे बेस्ट होस्टिंग प्रोवाइडर माना जाता है। और इसका कस्टमर सपोर्ट भी सबसे अच्छा है। इसके शेयर्ड होस्टिंग का starting प्लान 99/month से शुरू होता है। यहां पर भी आपको सभी सुविधाएं मिलती है।

A2Hosting

यहां पर आपको सबसे तेज और affordable सर्विस प्रदान की जाती है। मतलब यहां पर आप अपने वर्डप्रेस साइट को सुपर फास्ट बना सकते है। इसके shared hosting प्लान $2.99/Month से शुरू है।

SiteGround

यह भी आपकी वर्डप्रेस वेबसाइट को तेज गति और सुरक्षा प्रदान करने के लिए प्रसिद्ध है। इसके अलावा इसका कस्टमर सपोर्ट भी अच्छा मिलता है। यहां पर shared hosting के प्लान $6.99/month से शूरू है।

Milesweb और Erichost

यह आपको सबसे कम प्राइस में होस्टिंग प्रोवाइड करते है। हालांकि यह भारत के लिए ही बेस्ट है।

इनके प्लान्स लगभग Rs. 40/month से शूरू होते है। आप यहां से एक शूरूआत कर सकते है।

एक बेस्ट वेब होस्टिंग को कैसे चुने

अगर आप अपनी वर्डप्रेस वेबसाइट को अच्छे से शूरू करना चाहते हैं, तो आपको एक सही होस्टिंग खरिदनी होगी। इसके लिए आप निम्न बिंदुओं के आधार पर ही होस्टिंग खरिदें।

  1. सबसे पहले आपको यह सोचना है कि आपको किस प्रकार की होस्टिंग चाहिए। जैसे- Shared hosting, VPS, dedicated या could hosting
  2. खरिदे जाने वाले प्लान में जांच ले कि उस प्लान से आप कितनी वेबसाइट को होस्ट कर सकते है।
  3. अपनी वर्डेप्रेस वेबसाइट के स्टोरेज के आधार पर प्लान को सेलेक्ट करे।
  4. अच्छा अपटाइम देने वाली वेब होस्टिंग कंपनी को चुने। जो आपको 99.9% का अपटाइम देता है।
  5. Bandwidth- किसी एक समय में वेबसाइट और यूजर्स के बीच कितना डाटा ट्रांसफर हो सकता है। मतलब ऐसे प्लान को देखे जो अच्छा बेंडविथ देता है।
  6. होस्टिंग कंपनी का कस्टमर सपोर्ट सिस्टम कैसा है। (24X7 customer support को चुने)
  7. Daily backup system को जांच ले।
  8. क्या वह होस्टिंग कंपनी free SSL certificate दे रहा है?
  9. server location (data centre) की जगह को जरूरत देखे।
  10. क्या वह वर्डेप्रेस की सुविधा देता है?
  11. Emails बनाने की सुविधा कितनी मिल रही है?
  12. एक बेस्ट होस्टिंग कंपनी को चुने।

Note: web hosting के साथ आप नया डोमेन भी खरिद सकते हैं या अपने खरिदे हुए डोमेन को जोड़ सकते है।

होस्टिंग को खरिदने के बाद आपको name servers का मेल आएगा, उसे संभालकर रखे।

How to Install WordPress a beginners guide in Hindi

वर्डप्रेस पर वेबसाइट बनाने के लिए आपको सबसे पहले डोमेन नेम को होस्टिंग के साथ जोड़ना है। अन्यथा आप होस्टिंग कंपनी के द्वारा होस्टिंग और डोमेन दोनों को एक साथ खरीद सकते हैं। इससे आपको डोमेन जोड़ने की मुशीबत नही होती है।

अब वेबसाइट बनाने के लिए आपको वर्डप्रेस को इंस्टॉल करना होगा। इसके लिए आप निम्न प्रक्रम को फोलो करें:

Step 1: अपनी होस्टिंग प्रोवाइडर कंपनी की वेबसाइट में लॉग इन करे। मान लीजिए मैंने Hostinger से Hosting ली है तो मैं अपने Hostinger Hosting Panel में user ID और Password की सहायता से Login करूंगा जिसे hpanel भी कहा जाता है और इसका इंटरफेस कुछ इस प्रकार दिखाई देता है जो आप नीचे इमेज पर देख रहे हैं|

Wordpress kya hai और wordpress website kaise banaye

हो सकता आपने किसी दूसरे Hosting Service provider से होस्टिंग ली हो तो वहां का इंटरफेस कुछ और दिखाई देता हो लेकिन process सबका यही है पर आपको अपने होस्टिंग सैक्सन में जाना होगा

Step 2: Hosting option पर टैब करते ही आपके सभी प्लान कुछ प्रकार दिखाई देने लगेंगे जैसा इमेज पर दिखाया गया है हालांकि यह मेरा Business plan है और उसके साथ मैंने और सुविधाओं को ले रक्खा है जिस वजह से यहां और भी कई प्रकार की setup option दिखाई दे रहे हैं यदि आप होस्टिंग का कोई दूसरा प्लान ले रखें होंगे तो आपको दो सेटअप दिखाई दे रहे होंगे| वहीं आप Hostinger के साथ होस्टिंग का सौदा करते हैं तो आप होस्टिंग के साथ Free SSL certificate और Free Domain भी प्राप्त कर सकते हैं। अब आपका जो भी प्लान हो आपको होस्टिंग के आगे दिखाई दे रहे setup पर click करना है

Step 3: होस्टिंग सेटअप पर किल्क करते ही यह welcome पेज खुलकर सामने आएगा जो आप नीचे देख रहे हैं यहां आपको start now पर टैब करना है

अगला पेज आपसे पूछेगा आप क्या बनना चाहते हैं इस पेज पर बहुत सारे ऑप्शन मिलते हैं यहां आपको Blog पर टैब करना है

Step 4: Blog पर टैब करते ही अब आप इस पेज में होंगे जो आपसे पूछेगा Choose a Domain और Use an Existing Domain का यदि आपने premium या business plan ले रखा है तो यहां आपको साथ में डोमेन भी मिला होगा जिसे पहले वाले इमेज पर दिखा भी रहा होगा यदि आपको डोमेन मिला हुआ है तब आप पहले वाले option को select करें। लेकिन यदि आपने Domain कहीं और से ले रखा है तब आप दूसरे विकल्प को सिलेक्ट करें

Step 5: आप जैसे ही दूसरे विकल्प को सिलेक्ट करते हैं डोमेन इंटर करने का बाक्स खुलकर सामने आएगा यहां आप अपना डोमेन इंटर या पेस्ट करें जो आपने कहीं और ले रखा है और continue button पर टैब करें अब कुछ छंड इंतजार करें डोमेन registered होने पर आप स्वत: अगले पेज पर redirect हो जाएंगे और आप इस पेज में होंगे जो नीचे दिखाया गया है इस page पर आपको पन: दो विकल्प मिलेंगे और आपसे पूछेगा क्या आप नया वेबसाइट बना रहे हैं या अपने किसी दूसरे होस्टिंग पर बने वेबसाइट को migrate करना चाहते हैंं

अब यदि आपके पास कोई दूसरा वेबसाइट है तब दूसरे विकल्प के साथ जा सकतें हैं अन्यथा पहले विकल्प को सिलेक्ट करें मेरा यह नया वेबसाइट है तो मैं पहले विकल्प के साथ जाउंगा इसके अलावा नीचे आपको एक ऑप्शन दिखाई दे रहा होगा skip I will start from scratch का इस पर क्लिक करने से भी आप नेक्स्ट स्टेप पर मूव हो जाते हैं

Step 6: अब आपने build a new website या skip I will start from scratch इन दोनों में से किसी को भी क्लिक किया हो आप नीचे दिखाए गए पेज पर होंगे इस पेज में आपको पेंसिल पर लिंक दिखाई दे रहा होगा उस पर क्लिक करके अपना server location चुने यहां आपको hostinger की तमाम server location मिल जाते हैं तो आप अपनी वेबसाइट को किस सर्वर पर होस्ट करना चाहते हैं उस पर क्लिक करें और सरवर चुनने के बाद finish setup पर क्लिक करें

Setup 7: finish setup पर क्लिक करने के बाद अगला पेज आपको कुछ इस प्रकार दिखाई देगा जो आप दिखाए गए इमेज पर देख सकते हैं अब आपका hostinger web hosting set up हो रहा इसमें कुछ सेकंड का समय लग सकता है आप इंतजार करें

अब कुछ समय इंतजार करने के बाद आप स्वत: दूसरे पेज पर पहुंच चुके होंगे जहां पर आपको your website is ready का message दिखाई दे रहा होगा अब आपका hostinger hosting में website create हो चुका है

यहां पर आपको दिखाई दे रहे manage site पर क्लिक करना है manage site पर क्लिक करते ही अपने hostinger hpanel पर redirect हो जाते हैं आइए अब hostinger hosting में WordPress install करना सीख लेते हैं

hostinger hosting में WordPress कैसे install करें

Step 8: hostinger hpanel में पहुंचने के बाद आपके सामनेेेे यह इंटरफ़ेस होगा जो आप इमेज पर देख रहे हैं

अब आप पेज को नीचे की तरफ scroll करें और website section में auto installer के विकल्प को चुनें

यहां पर आपको wordpress CMS के अलावा और भी content management system दिखाई देंगे आपको वर्डप्रेस का विकल्प चुनना है जैसा इमेज पर दिखाया गया है, और उसे क्लिक करे।

Step 9: वर्डप्रेस पर क्लिक करते ही आपके सामने एक दूसरा पेज कुछ इस प्रकार दिखाई देने लगेगा जैसा हमनें इमेज कर दिखाया है यहां पर आपको अपना username और password बनाना होगा इसके अलावा site title भी चुने

अब आप नीचे की तरफ दिखाई दे रहे install button पर टैब करें और कुछ छंड इंतजार करें अब आपका wordpress Install हो रहा है कुछ समय बाद आप इस विंडो को क्लोज कर दें और होम पेज पर जाने के लिए hostinger logo पर क्लिक करें इससे आप होम पेज पर आ जाते हैं 

Step 10: यहां पर आपको पुनः Hosting पर क्लिक करना है और अपने डोमेन के आगे दिखाई दे रहे manage पर जाना है अब आप पुनः इस पेज पर होंगे

अब यहां left side में अपने account section में details पर क्लिक करें क्लिक करते ही यहां पर आपको Nameserver सबसे ऊपर दिखाई दे रहा होगा साथ ही दो Nameserver भी देखने को मिल रहे होंगे जिन्हें आप नीचे स्क्रीनशॉट पर देख सकते हैं इन्हें आपको अपने domain name provider के Nameserver पर जाकर जोड़ना होगा यदि आप यह प्रक्रिया मोबाइल फोन की मदद से कर रहे हैं तो होस्टिंग पर क्लिक करके अपने डोमेन के आगे दिखाई दे रहे मैनेज पर क्लिक करें अब ऊपर राइट साइड में थ्री डॉट दिखाई दे रहे होंगे उस पर क्लिक अब आपको ऊपर बताए गए सभी फीचर दिखाई दे रहे होंगे

How To Connect Godaddy Domain To Hostinger Hosting -(गोडैडी डोमेन को होस्टिंगर होस्टिंग से कैसे कनेक्ट करें)

Step 11: अब हम अपने होस्टिंगर होस्टिंग में गोडैडी डोमेन को जोड़ना सीखेंगे जिसके लिए आपको सबसे पहले एक न्यू विंडो ओपन करना होगा तथा Godaddy Domain account में user id and password की सहायता से लॉगइन करना होगा

लॉगिन करते ही यहां पर आपका डोमेन दिखाई देगा इसके अलावा ऑप्शन दिखाई दे रहे होंगे यहां पर अपना Nameserver बदलने के लिए DNS सेटिंग या manage विकल्प को चुनें आप इन दोनों में से किसी को चुन सकते हैं जैसा आप इमेज पर देख रहे हैं

यदि आपने मैनेज पर क्लिक किया है तब आप नीचे दिखाएं पेज पर होंगे इस पेज में आपको manage DNS दिखाई देगा आप मैनेज DNS पर क्लिक करें

Manage DNS पर क्लिक करते ही आपको अगला पेज नीचे दिखाए गए स्क्रीनशॉट की तरह दिखाई देगा वहीं यदि आपने DNS पर क्लिक किया है तब भी आप इसी पेज पर होंगे जैसा नीचे इमेज पर दिखाई दे रहा है

Step 12: अब आपको using custom Nameserver के आगे change button press करना होगा चेंज पर क्लिक करते ही यहां पर आपको दो नेमसर्वर दिखाई दे रहे होंगे इन्हें अब आप को बदलना है

अब आप अपने उस page window पर जाएं जिस पेज में आपने hosting hpanel के Nameserver को निकाला हुआ था अब पहले वाले Nameserver को कॉपी करें और गोडैडी के पहले वाले नेम सर्वर पर पेस्ट करें इसी प्रकार दूसरे नेमसर्वर को दूसरे बॉक्स पर दोहराए जैसा इमेज पर दिखाया गया है

और सेव बटन पर क्लिक करें इस प्रकार अब आपका डोमेन होस्टिंग के साथ कनेक्ट हो चुका है

नोट:- इसमें कुछ समय लग सकता है ऐसा गो डैडी का कहना है पर सभी केस में यह कुछ ही समय में कनेक्ट हो जाता है इसे चेक करने के लिए स्टेप 13 फॉलो करें

Step 13: अब आप अपने Godaddy account से लॉग आउट कर जाएं और अपनी hostinger hpanel से भी आपका डोमेन होस्टिंग के साथ जुड़ा है या नहीं और आपके हस्टिंग पर wordpress install हुआ है या नहीं पता करने के लिए एक new window open करना है और example.com/wp-admin यानी आपका जो भी डोमेन नेम है उसे कुछ इस प्रकार गूगल पर टाइप करें अब आपके सामने अगला पेज कुछ इस प्रकार दिखाई जो आप नीचे स्क्रीनशॉट पर देख रहे हैं

इसके बाद आपको यूजर नेम और पासवर्ड डालकर लॉग इन करना है। और आपकी वेर्डप्रेस वेबसाइट खुल जाएगी जिसका डैशबोर्ड कुछ इस प्रकार दिखाई देने लगेगा

Wordpress kya hai और wordpress website kaise banaye

इस प्रकार अब आपका wordpress website बन चुका है आइए अब वर्डप्रेस उपयोग करना सीख लेते हैं

WordPress का उपयोग कैसे करे

वर्डप्रेस का उपयोग करना बहुत ही आसान है। लेकिन फिर भी हम यहां पर कुछ जानकारियां दे रहे हैं, ताकि आप आसानी से वर्डप्रेस का इस्तेमाल कर सकें।

Dashboard-

यह वर्डप्रेस का मूख्य पृष्ठ होता है, जहां पर कमेंट, नयी अपडेट, नये प्लगइन आदि की जानकारियों को देखी जा सकती है।

Posts-

यहां पर आपको चार ऑपशन (all posts, new post, category और tags) के ऑपशन मिलते है। यहां से आप अपने सभी आर्टिकल को देख सकते हैं न्यू पोस्ट लिख सकते हैं और edit व पोस्ट कर सकते है। इसके अलावा अपनी पोस्ट को कैटेगरी वाइज रख सकते हैं।

Media-

इस विकल्प में आप video, images, audio और files आदि को अपलोड कर सकते है।

Pages-

यहां से आप पेजेज बना सकते है। जैसे- About us, contact us, privacy policy और disclaimer आदि।

Comment-

यहां पर आपके वेबसाइट पर पूंछे गये सभी कंमेंट को दिखाया जाता है। यहां से आप उन्ह कमेंट को delete, spam, approve और disapprove कर सकते है।

Appearance-

यहां से आप वेबसाइट को एडिट कर सकते है। यह बहुत ही महत्वपूर्ण विकल्प है। इसमें आपको theme, customize, widgets, menus, header, background और theme editor जैसें कई विकल्प मिलते है।

Plugins-

यह भी वर्डप्रेस की सबसे अच्छी सुविधा है। मतलब वेबसाइट में कोई भी सेटिंग या डिजाइन के लिए आप डायरेक्ट प्लगइन को इंस्टोल कर सकते है और उनका use कर सकते है। इसके अलावा यहां पर आपको प्लगइन की कोडिंग में बदलाव करने का भी विकल्प मिलता है।

User-

आज के समय में बहुत सारे लोग कम्यूनिटी बनाकर वेबसाइट पर काम करते है। इसलिए वर्डप्रेस आपको user management की सुविधा और सुरक्षा देता है। मतलब इस विकल्प के द्वारा आप किसी वांछित यूजर को अपने वेबसाइट के साथ जोड़ सकते है और हटा सकते है।

Tools-

यह भी एक अच्छी सुविधा है। यहां से आप कंटेंट को import कर सकते है और वेबसाइट के कंटेंट को backup के रूप में डाउनलोड भी कर सकते है।

Setting-

यहां से आप अपनी वेबसाइट की सेटिंग कर सकती है। इस सेटिंग में permalinks महत्वपूर्ण है।

Note:

आपको permalinks पर क्लिक करना है और post name को सेलेक्ट करके सेव करना है।

इस तरह आप एक वर्डप्रेस वेबसाइट बना सकते है, बिना किसी समस्या के।

WordPress website के लिए थीम को इंस्टॉल करें

वर्डप्रेस पर एक आकर्षक वेबसाइट बनाने के लिए आपको थीम को चुनना होगा। और उसे इंस्टॉल करना होगा, जिसके लिए निम्न प्रक्रिया को फोलो करें-

  1. वर्डप्रेस के डेसबोर्ड में लॉग इन करे।
  2. यहां पर आपको appearance का विकल्प मिलेगा, उसे क्लिक करे।
  3. अब आपके सामने theme का विकल्प मिलेगा, उसे क्लिक करें। और उसके आप add new theme पर क्लिक करे।
  4. अब आपके सामने बहुत सारी थीम के विकल्प मिल जाएंगे। आप उनमें किसी भी थीम को इंस्टॉल कर सकते है। इंस्टोल करने से पहले आप उसका preview भी देख सकते है।
  5. थीम को इंस्टोल करने के बाद आपकी वर्डप्रेस वेबसाइट तैयार हो जाएगी।

महत्वपूर्ण प्लगइन्स को इंस्टॉल करे

वेबसाइट को सही तरिके से तैयार करने के लिए आपको प्लगइन्स install करने पड़ेंगे। लेकिन हम सबसे पहले जानेंगे कि plugins क्या हैं? उसके बाद हम कुछ महत्वपूर्ण प्लगइंस को इंस्टॉल करेंगे।

Plugins क्या है

सामान्यत: वेबसाइट को डिजाइन या कस्टमाइज करने के लिए कोडिंग का ज्ञान होना आवश्यक है। लेकिन वर्डप्रेस आपको प्लगइन की सुविधा देता है, जिन्हे आप एक क्लिक से इंस्टॉल कर सकते हैं और अपनी वेबसाइट को आसानी से कस्टेमाइज कर सकते है।

अब हम कुछ महत्वपूर्ण प्लगइन को देख लेते है।

  1. Yoast SEO plugin-

वेबसाइट पर आर्टिकल लिखने के साथ उसका SEO (search engine optamiztion) करना भी जरूरी हैं, ताकि आपकी वेबसाइट गुगल पर रैंक हो सके।

वर्डप्रेस SEO friendly article लिखने के लिए आपको Yoast SEO plugin की सुविधा देता है। इसके अलावा यह automatically sitemap भी generate करता है।

Note: वेबसाइट बनाने के बाद आपको अपनी वेबसाइट को Google search console के साथ जोड़ना है।

  1. Site kit by Google plugin

इस प्लगइन से आप कुछ ही क्लिक से अपनी वेबसाइट को Google search console, AdSense, Google analytic और page speed taster के साथ जोड़ता है।

  1. Contact form 7

इस प्लगइन से आप contact us का पेज बना सकते है।

  1. Easy table of contents

यह प्लइन आपके आर्टिकल पर automatic table of content को बनाता है।

अंतिम शब्द:

हमें उमीद है कि इस आर्टिकल से आपको  WordPress kya hai ?और WP पर website कैसे बनाए के बारे में समझ आ चुका होगा

पर यदि अब भी आपके मन में कोई डाउट है या आपको लगता है कि कोई ज़रूरी भाग जो इस लेख में छूट गया है और उसे जोडा जाना जरूरी है तो आप हमें उसके बारे में कमेंट सेक्शन में लिख सकते हैं हम उसमें सुधार अथवा छूटे भाग को जोड़ने की पूरी कोशिश करेंगे

और दोस्तों हमारे द्वारा लिखा जानें वाला लेख आपको पसंद आ रहे हैं या नहीं इस पर भी अपना मत जरूर रखें ताकि हम भविष्य में उन्हें और भी बेहतर बना सकें और यदि हमारे द्वारा दी जाने वाली जानकारी आपको पसंद आते हैं तो इन्हें अपने मित्रों तथा अपने सोशल मीडिया ग्रुप में भी शेयर जरूर कीजियेगा साथ ही आप हमें Facebook, Twitter, Instagram, LinkedIn, printrest और reddit पर भी फॉलो कर सकते हैं

तो दोस्तों अब आज के लिए बस इतना ही मिलते हैं जल्द एक नई जानकारी में तब तक के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद आर्टिकल पढ़ने के लिए नमस्कार दोस्तों

Leave a Comment

error: Content is protected !!