How to start a blog and make money 2021 in Hindi

How to start a blog and make money 2021 in Hindi

आज के आर्टिकल का टॉपिक हैं कि ‘How to start a blog and make money 2021 in Hindi हालांकि गुगल पर इस टॉपिक से संबंधित बहुत सारे आर्टिकल मौजुद हैं, लेकिन हम यहां पर आपको नयी और complete जानकारियां देंगे। इस आर्टिकल के अलावा आपको अन्य आर्टिकल की जरूरत नहीं होगी, अर्थात् यहां पर आपको सभी जानकारियां मिल जाएगी।

Contents

What is blog and website?. 1

How to start a blog and make money for beginners. 1

ब्लोग के लिए perfect niche कैसे select करे ?. 2

Select a best profitable domain name. 3

डॉमेन नेम क्या होता है (what is domain name) 3

Top level Domain and Cheap domain. 4

फ्री डोमेन के साथ वेबाइट for beginners. 4

How to start a blog for free in Hindi 5

Free blog को start करने के बाद Professional blog कैसे बनाये. 6

ब्लोग पर पहली पोस्ट (first blog post) कैसे लिखे?. 7

How to write first blog post on blogger 7

SEO क्या है और इसके प्रकार कितने हैं. 8

SEO दो प्रकार के होते है: 9

Keyword kya hai और money earning के लिए क्यों जरूरी हैं. 10

SEO के आधार पर कीवर्ड को दो प्रकार से लिख सकते हैं- 10

सही keyword placement क्या है. 10

Free and paid keyword research tool 10

Free keyword research tool 11

Paid keyword research tool 11

Article indexing on Google (Google search console) 11

Backlink kya hai, इसके प्रकार कितने है और उपयोग. 12

Backlink दो प्रकार के होते हैं. 12

Backlink kaise banaye. 12

How to make money in India from blog start 13

Google AdSense कैसे काम करता है और blog से earning कैसे होती है. 13

Google AdSense approval कैसे प्राप्त करें. 13

Google AdSense alternative for blog earning.. 15

India में blog से money earn करने के लिए अन्य तरिकें.. 15

 

विषय सूची दिखाएं

What is blog and website?

Blog:-

एक प्लेटफॉर्म होता है, जिस पर हम नई जानकारी, कहानीयां तथा अपने विचार को कई सारे लोगो के साथ सांझा कर सकते है । उदा. Book, एक प्रकार का ब्लोग ही है, जिसमें कई सारी कहानियां, विचार या जानकारी सांझा की जाती है । blog मे हमेशा एक पोस्ट अपलोड की जाती है। Blog को एक अकेला व्यक्ति शुरु कर सकता है । एक Author ब्लोग को आसानी से संभाल सकता है ।Blog create करने के लिए कोडिंग का आना जरुरी नही है ।

Website:-

जब कोई व्यक्ति कोडिंग द्वारा तैयार किये गए पेज को ऑनलाइन पोस्ट करता है, उसे वेबसाइट कहा जाता है। वेबसाइट तैयार करने के लिए codding का ज्ञान होना आवश्यक है । यदि आपको कोडिंग का ज्ञान नही है, तब भी आप website create कर सकते है, इसके लिए आपको वेबसाइट डेवलपर से संपर्क करना पङता है । जो आपको वेबसाइट तैयार करके देता है ।

अन्य शब्दो में html, JavaScript, CSS, php and other codding द्वारा तैयार साइट को वेबसाइट कहा जाता है । वेबसाइट का उपयोग मुख्य रुप से ऑनलाइन तथा ऑफलाइन व्यवसाय करने के लिए होता है। वेबसाइट को मैनेज करने के लिए बहुत से लोगो की आवश्यकता होती है । जिसमें आप खुद कई सारे फंक्शन शुरु कर सकते है ।

 

How to start a blog and make money for beginners

हमारे इस लेख का मुख्य उद्देश्य यह बताना है, कि आप किस प्रकार से Blog create कर सकते है । स्वंय के ब्लोग को आप निम्नलिखित तरीके से बना सकते है । इसे हम निम्न बिंदुओं के अंतर्गत समझ सकते हैं-

  • Select Perfect niche for earning purpose
  • Select profitable domain name
  • Write first blog post
  • Do SEO on your blog
  • Keyword research
  • Article indexing
  • Make Backlinks
  • Google adsense earning
  • Other ways for earn money from blog

 

ब्लोग के लिए perfect niche कैसे select करे ?

Blog Create करने से पहले एक perfect niche select करना बहुत ही जरुरी होता है । यदि आप कोई गलत niche select करते है, तो इसका पूरा प्रभाव आपके ब्लोग तथा उसकी रैकिंग पर पङता है । आपको अपने ब्लोग को रैंक करवाने के लिए बहुत सारे प्रतियोगियों से जीतना होगा । जिन्होने पहले ही उस niche पर अपना ब्लोग दिया हैं।

इसलिए हम कुछ ऐसे स्टेप्स बताएंगे, जिनके जरिए आप आसानी से perfect niche select कर सकते है –

  1. पता लगाए कि आपको किस विषय में रुचि है – आप सबसे पहले यह पता लगाए कि आपको किस विषय में रुचि है । आप किस विषय में ज्यादा जानकारी जानते है । उस विषय पर अपने ब्लोग का टॉपिक सेलेक्ट करे ।
  2. यह जाने की आप किस टॉपिक के बारें में अधिक जानते है – आपके पास जिस विषय की अधिक जानकारी है, आप उसे ही अपनी niche चुने ।

यदि आप ऐसे टॉपिक को चुनते है,जिसके बारें में आप पहले से ही जानते है, तो आप अपने अनुभव को लोगो के साथ शेयर कर पाएंगे । तथा आप उन्हे काफी बेहतर तरीके से समझा पाएंगे।

  1. Check the level of competition – आप जिस niche को सेलेक्ट करते है, उससे पहले यह Check करे कि उस niche पर पहले से कितने ब्लोग बने हुए है ।
  2. Competitor के बारें में जानें – सफल ब्लोगर बनने के लिए सिर्फ competition level जानने से कुछ नही होता है । एक सफल ब्लोग अपने प्रतिद्वंदी की पूरी जानकारी रखनी चाहिए ।
  3. 5. Select multi topic यदि आप ऐसे टॉपिक को सेलेक्ट करते है, जिस पर पहले से ही बहुत सारे ब्लोग बने हुए, जिनसे आगे बढना आपको कठीन लगता है, तो आप उस टॉपिक के साथ किसी दूसरे टॉपिक को भी चुन सकते है । जिसमें लोग रुचि रखते हो ।
  4. Select a perfect niche (who give you a best income): – आप ऐसे niche को सेलेक्ट करे, जिस पर प्रतियोगिता बहुत कम होती है, तथा कम ट्राफिक होने के बावजूद भी अच्छी इनकम कमा सकते है।

 

List of profitable niche ideas for blog

  • Personal Finance
  • Financial independence
  • travel
  • Body weight fitness
  • yoga
  • Photography
  • WordPress
  • shopify
  • ecommerce
  • Physical sports
  • Freelancing
  • self-publishing
  • Fishing
  • boating
  • mobile app development
  • funny workplace stories
  • swimming
  • arts and crafts
  • education
  • YouTube
  • coding
  • home improvement
  • pregnancy
  • movies
  • local business marketing
  • motor cars
  • music
  • learning a language
  • Religion Etc.

 

Select a best profitable domain name

हम सभी डॉमेन नेम के बारें में थोङा बहुत जानते ही है । जब हम किसी वेबसाइट को सर्च करते है, तब डॉमेन नेम को देखा ही होगा ।

Best profitable domain name के बारें में जानने से पहले हम यह जानेंगे कि आखिरकार डॉमेन क्या होता है, यह किस प्रकार काम करता है ।

 

डॉमेन नेम क्या होता है (what is domain name)

डॉमेन नेम एक विशेष प्रकार का नामकरण होता है, जिसके जरिए हम इंटरनेट पर कोई वेबसाइट को सर्च कर सकते है ।

प्रत्येक वेबसाइट किसी न किसी IP address (internet protocol Address) से जुङी होती है । जो ब्राउजर को यह बताती है कि वह वेबसाइट इंटरनेट पर कहां मौजूद है।

डॉमेन नेम एक प्रकार का आसान नाम होता है, जिसे IP address के मुकाबले आसानी से याद कर सकते है। अर्थात डॉमेन नेम IP address को ढूंढने में मदद करता है ।

इसे हम एक उदाहरण से समझेंगे:

https://www.blogstudy.net/2020/12/03/books/seo  (इसमें बोल्ड किया गया URL डोमेन कहलाता है।)

अगर आप एक वेबाइट बनाना चाहते है, तो आपको भी एक ऐसा ही डोमेन नाम सोचना होगा और उसे Domain name provider website से खरिदना होगा।

 

Domain Provider website list

यहां पर कुछ टॉप वेबासाइट की लीस्ट दी गयी है, जहां से आप एक डोमेन नाम खरिद सकते है। यह डोमेन आपको 50 रूपये से लेकर 1400 रूपयें तक मिल सकता हैं। लेकिन अगर आप भारतीय हैं तो  आप www.yourniche.com या www.yourniche.in डोमेन को खरिद सकते हैं, जिसकी Price 700  से 900 तक हैं। इसके अलावा भी आप डोमेन नेम खरीद सकते हैं। उदाहरण- .com, .in, .net, .co.in, आदि।

 

Top level Domain and Cheap domain

ब्लोगिंग क्षैत्र में कुछ नाम यह भी मिलते हैं। Top level Domain मतलब एक हाई रैंक और प्रोफेशनल डोमेन नाम, जिसे सबसे ज्यादा उपयोग किया जाता है और वह काफी प्रचलन में हों। उदाहरण: .com, .in, .net, .org, .gov, .edu आदि। इनकी प्राइस भी ज्यादा होती हैं।

Top level Domain (TLD) जल्दी से गुगल एडसेंस का अपरोवल लेने में सहायक होता हैं। लेकिन आप वेबसाइट पर अच्छी मेहनत करके cheap domain पर भी अप्रूवल ले सकते हैं। हालांकि इसमें टाइम लगता हैं।

Cheap level domain मतलब ऐसे डोमेन नेम जिनकी value ज्यादा नहीं हैं। जैसे- .xyz, .pw, .blz, .info, .site आदि। इन्हे आप मात्र 50 से 300 रूपये के अंदर खरिद सकते हैं लेकिन इन्हें रैंक कराना मुश्किल हैं।

नोट: हमारी सलाह यही हैं कि आप एक TLD Domain ही ले ताकि आपको भविष्य में कोई समस्या न हों।

 

फ्री डोमेन के साथ वेबाइट for beginners

अगर आप Blogging क्षैत्र में नये (beginner) है तो आप फ्री डोमेन के साथ भी अपनी वेबसाइट या ब्लोग create कर सकते है। फ्री डोमेन आपको ब्लोगर की ऑफिशियल वेबसाइट (www.blogger.com) पर मिल जाएगा।

Official website पर पहुंचने के बाद आप अपने niche के आधार पर unique Domain name के साथ अकाउंट बना सकते हैं। अकाउंट बनाने पर आपको कुछ इस प्रकार का डोमेन नेम मिलगा-

www.yourniche.blogspot.com

नोट: फ्री डोमेन पर भी google adsense का approval मिलता है अर्थात् आप blog start करके money earn कर सकते हैं। हालांकि इसके लिए आपको 6 महिनों या उससे अधिक समय भी लग सकता है।

हमारी राय है कि आप 5 से 6 महिनों तक फ्री ब्लोग के साथ ही काम शूरू करें, अगर आप एक beginner है।

 

How to start a blog for free in Hindi

क्या आप ब्लोग से पैसे बनाना (make money) चाहते हैं और साथ आप blog free में start करना भी चाहते हैं? तो अब हम इसी टॉपिक पर विस्तार से चर्चा करेंगे। blog  को create करने के लिए हम निम्नलिखित steps को फोलो करेंगे। तो चलिए सिखते हैं कि how to start a blog and make money in India?

 

स्टेप -1

सबसे पहले आपको official website www.blogger.com पर जाना होगा और यहां पर आपको अपनी Gmail के साथ Sign up करना होगा।

नोट:  Blogger गुगल का ही एक प्रोडक्ट हैं जो फ्री में वेबसाइट या ब्लोग बनाने की सुविधा देता हैं। फ्री ब्लोग में सबसे ज्यादा पॉपुलर blogger.com ही है।

 

स्टेप- 2

साइन अप करने के बाद आपको दो ऑपशन नजर आएंगे, मतलब टाइटल और एड्रेस के बॉक्स

Title- यहां पर आपको अपने ब्लोग या वेबसाइट के niche के अनुसार टाइटल देना हैं। टाइटल आप 60 character की सीमा में ही डाले।

How to start a blog and make money 2021 in Hindi

Address- यहां पर आपको एक या दो शब्दों के साथ unique एड्रेस डालना है। यह आपकी वेबसाइट का मुख्य URL होगा।

How to start a blog and make money 2021 in Hindi

 

यहां पर .blogspot.com डोमेन स्वत: ही आपके unique एड्रेस के पीछे लग जाएगा।

नोट: यहां पर आपको अपने घर का एड्रेस नहीं डालना है। यहां पर आपको अपनी वेबसाइट के लिए एक छोटा-सा और आकर्षक name डालना है।

उदाहरण:

Address: yourname.blogspot.com

 

स्टेप -3

अब आपको Create blog या save बटन पर क्लिक करके अगले चरण में पहुंचना है जहां पर आपको एक थीम चुननी हैं। हालांकि आप इसे skip भी कर सकते हैं क्योंकि थीम आप बाद में भी चुन सकते है।

इन स्टेपस को फोलो करने के बाद आपकी खुद की वेबसाइट (your own blog) तैयार हो जाएगी। अब आप यहां पर New post पर क्लिक करकें आर्टिकल लिख सकते हैं और उन्हे गुगल पर index कर सकते हैं।

अब एक और सवाल आता है कि एक blog start करने के बाद ब्लोग को प्रोफेशन वेबसाइट मे कैसे बदलें? तो इसके लिए आप निम्न स्टेप्स को फोलो करें:

 

Free blog को start करने के बाद Professional blog कैसे बनाये

  1. आपको पहला काम यह करना है कि आप एक अच्छी थीम को सेलेक्ट करें और उसके बाद उसे अपलोड करे।
  2. अपने ब्लोग के interface और navigation bar को user friendly बनाएं।
  3. ब्लोग के लिए designer logo और favicon को सेलेक्ट करे और साथ ही social sharing बटन का उपयोग करे।
  4. ब्लोग पर आकर्षक टेक्स्ट का उपयोग करें और ब्लोग के कलर को भी सेटअप करें। (नोट: इसे Skip भी कर सकते है)
  5. अपने आर्टिकल के अनुसार categories का निर्माण करें।
  6. अपने ब्लोग के niche से संबंधित custom domain name (TLD) को खरीदें।
  7. Google AdSense या other AdSense की ads का उपयोग करे।
  8. अपने यूजर्स को आसान तरिकों में जानकारियां देने की कोशिश करे।

 

अब तक हमने एक blog (website) का निर्माण किया है और उसे प्रोफेशनल भी बना लिया है। इसके अलावा हमने डोमेन नाम भी ले लिया है। लेकिन अभी भी money earning के लिए समस्या है कि ब्लोग पर पहली पोस्ट (first post on blog) कैसे लिखें?

यह बहुत जरूरी हैं क्योंकि यह आपके blog earning को प्रभावित करता है। तो चलिए देखते हैं कि पहला ब्लोग पोस्ट किस तरह लिखते हैं। यह सब हम Google AdSense earning के लिए कर रहे है।

 

ब्लोग पर पहली पोस्ट (first blog post) कैसे लिखे?

आज दुनियां में प्रत्येक दिन हजारो ब्लोग create होते हैं और डिलीट भी होते हैं। लेकिन वही ब्लोग success होता है, जो अपने आर्टिकल (पोस्ट) को मेहनत के साथ और सही ढंग से लिखता है। अगर आप blog से  money earn करना चाहते है तो आपको अपने आर्टिकल का SEO (Search Engine Optimization) करना होगा। जिससे आपका आर्टिकल गुगल के टॉप 10 पेजेज में आ सकें।

क्योंकि हम जानते है कि गुगल पर किसी भी टॉपिक पर करोड़ों की संख्या में आर्टिकल लिखे जाते हैं। इसलिए हमें अपने आर्टिकल को top position पर लाने के लिए SEO, backlinks, guest post आदि का उपयोग करना पड़ता हैं।

सबसे पहले हम ब्लोग पर पोस्ट लिखना सिखेंगे, उसके बाद हम  SEO, keywords research, Backlinks और Guest post के बारे में जानेंगे।

 

How to write first blog post on blogger

इसे हम निम्न तरिके से समझेंगे:

  1. सर्वप्रथम आपको अपने ब्लोगर डेसबोर्ड पर पहुंचना है और वहां पर ‘Create New Post’ बटन पर क्लिक करना है।
  2. अब आपके सामने नया ब्लैंक बोर्ड खुलेगा। उसमें दाईं तरफ post setting setup के लिए विकल्प मिलेंगे। अर्थात्

Labels- यहां पर आपको अपने आर्टिकल से संबंधित लेबल (संबंधित keywords) को डाले। प्रत्येक कीवर्ड के बाद “,” (कॉमा) का उपयोग करें। पोस्ट में 3 से ज्यादा लेबल को लगाएं और ध्यान रहे कि लेबल आपके पोस्ट पर आधारित होने चाहिए। यह labels आपकी पोस्ट को रैंक करने में सहायक होते हैं।

Schedule– इस विकल्प के द्वारा आप अपने आर्टिकल को पब्लिस होने के लिए एडवांस में टाइम को जोड़ सकते हैं।

Links- इस विकल्प में आपको custom permalink का ऑपशन मिलता है, उस पर क्लिक करके आप अपने आर्टिकल के लिए स्वेच्छा से url को modify कर सकते है। यहां पर आप अपने आर्टिकल का टाइटल डाल सकते हैं। उदाहरण:

How-to-write-blog-post-in-hindi (URL of blog post)

Location- यहां पर आपको अपना देश चुनना है। हालांकि इसे skip कर सकते है।

  1. अब आर्टिकल का टाइटल डालें। ध्यान रहे कि टाइटल की लंबाई 60 character तक सीमित होना चाहिए। टाइटल में आपको अपने आर्टिकल का मूख्य कीवर्ड डालना है।
  2. इसके बाद आपको compose पर क्लिक करना हैं और आर्टिकल लिखना शूरू करना है।

 

आर्टिकल कैसे लिखें:

  • आर्टिकल को लिखने से पहले आपको अपने आर्टिकल से संबंधित कीवर्ड की खोज करनी चाहिएं। अब इस कीवर्ड को title, article intro, article main body और summary में एक-एक बार उपयोग करना है।
  • ध्यान रहे कि कीवर्ड को ज्यादा संख्या में न लिखे।
  • आर्टिकल को छोटे-छोटे पैरेग्राफ (3 से 4 लाइन्स) में लिखने की कोशिश करें। और आर्टिकल की लंबाई कम से कम 1000 रखें।
  • आर्टिकल को लिखने से पहले अपने competitor के आर्टिकल को ध्यान से समझने की कोशिश करें और अपने आर्टिकल के लिए ब्लू प्रिंट (हैडिंगस और ढांचा ) तैयार करें।
  • अपने मूख्य कीवर्ड से संबंधित अन्य कीवर्ड का भी इस्तेमाल करें।
  • आर्टिकल में अपने competitor के आर्टिकल से ज्यादा बेहतर तरिके से लिखें और ज्यादा जानकारियां देने की कोशिश करे।
  • Unique Image को अपलोड करें और इमेज के Alt text में कीवर्ड का उपयोग करें। (इमेज के साइज को कम रखें। और फ्री इमेज (pixabay, unsplash, pixels आदि) का उपयोग करें।)
  • अपने आर्टिकल को पूरी तरह से unique लिखें। अर्थात् किसी भी तरह से copy न करें। हालांकि इसमें लोग चालाकी करने की सोचते हैं, लेकिन आज Google algorithm बहुत ही एडवांस हो चुका हैं और वह आपकी सभी चालाकियों को 7 दिनों में ही पकड़ सकता हैं। अत: आर्टिकल बिना चालाकी के unique तरिके से लिखे।
  • आर्टिकल को user friendly बनाने की कोशिश करे।
  • आर्टिकल पर keyword placement के लिए On-page SEO करे।

इस तरह आप एक अच्छा आर्टिकल लिख सकते हैं।

  1. आर्टिकल को पूरा लिखने के बाद उसे publish कर सकते हैं या draft भी कर सकते हैं। आप preview पर क्लिक करके आर्टिकल के रूप को देख सकते है।

 

SEO क्या है और इसके प्रकार कितने हैं

SEO का full form है- Search Engine Optimization

इसका संबंध गुगल सर्च इंजन से है। मतलब Google search engine के algorithm ने कुछ नियम बनाये हैं। अगर कोई भी आर्टिकल उन नियमों को पूरी तरह से फोलो करता हैं तो गुगल उस आर्टिकल को सबसे पहले और टॉप position पर प्रदर्शित करेगा।

हम सब की एक आदत है कि हम सबसे पहली वेबाइट को ही खोलते है और जानकारी प्राप्त करने के बाद वापस चले जाते हैं। लेकिन नीचे के आर्टिकल को कभी नहीं देखते हैं। इसलिए आर्टिकल को टॉप पेज पर रैंक करवाना अनिवार्य हैं।

 

SEO दो प्रकार के होते है:

  1. On-page SEO

यह organic traffic लाने का सबसे अच्छा तरिका हैं। और गुगल भी on-page seo के आधार पर आर्टिकल को रैंकिंग देता है।

On-page SEO का साधारण भाषा में मतलब है कि आर्टिकल पर SEO करना। अर्थात् आर्टिकल में keyword को Google नियमों के अनुसार व्यवस्थित तरिके से स्थापित करना। इसके अलावा भी अन्य factors हैं, जो निम्नलिखित हैं:

Website design, speed, structure, favicon, mobile friendly setup, title, tags (labels), categories, meta description, keywords density, internal links, URL, Image Alt text, heading management, article length, html page size, Https security, Google search console (indexing), broken links, systemically writing आदि।

 

  1. Off-page SEO

इसका साधारण भाषा में अर्थ है कि आर्टिकल से बाहर SEO करना, मतलब आर्टिकल के लिंक को manually इंटनेट पर वायरल करना।

ध्यान रहें कि किसी गलत तरिके से ट्राफिक न खींचे। अन्यथा आपको AdSense approval में समस्या हो सकती है।

Off-page SEO निम्नलिखित टॉपिक पर निर्भर करता हैं:

Social networkers (Facebook & groups, twitter, Google plus आदि), other social platform (Tumblr, Pintrest, Diggo, LinkedIn, Reddit आदि), Guest post, Pop up, Backlinks, Other search engine submission (pingler, pingo-matic आदि), Quora, medium.com, Advertisement आदि।

 

White hat SEO kya haiइस प्रकार के SEO में वेबसाइट ट्राफिक के लिए natural (genuine) तरीका इस्तेमाल किया जाता है। अर्थात् उपरोक्त तरीकों का इस्तेमाल किया जाता हैं। जबकि…

Black hat SEO kya hai– इसमें गलत तरीके से आर्टिकल को रैंक करवाने की कोशिश की जाती हैं। जैसे- keyword stuffing (high density), Doorway and Gatway post, Duplicate content, Invisible content, Full presser traffic, Non-related meta description, tags, categories आदि।

 

Keyword kya hai और money earning के लिए क्यों जरूरी हैं

गूगल पर किसी भी जानकारी के लिए हम सर्च बॉक्स में कीवर्ड को डालते हैं और गूगल उस कीवर्ड से संबंधित आर्टिकल को खोजता हैं। उसके बाद बेस्ट keyword seo वाले आर्टिकल को टॉप पॉजिशन पर प्रदर्शित करता है।

अर्थात् कीवर्ड का साधारण मतलब है कि ऐसा मूख्य शब्द जिसके आधार पर आर्टिकल को पहचाना जाता हैं। गुगल इन्ही कीवर्ड की मदद से आपके आर्टिकल को यूजर्स तक पहुंचाता है। इसे उदाहरण से समझते है:

जैसे मुझे लेपटॉप खरिदना है तो मैं गुगल सर्च इंजन में लिखुंगा कि “Best laptop in 2021”। यह मेरा कीवर्ड है। अब गुगल इस कीवर्ड से संबंधित आर्टिकल को खोजना शूरू करेगा। अगर आपने अपने आर्टिकल में इस कीवर्ड को अच्छे से उपयोग किया है तो गुगल आपके आर्टिकल को सबसे पहले प्रदर्शित करेगा।

कीवर्ड आर्टिकल रैंकिंग, ट्राफिक और money आदि के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं।

 

SEO के आधार पर कीवर्ड को दो प्रकार से लिख सकते हैं-

  1. Short Tail keywords- यह कीवर्ड 1 से 3 शब्दों में लिखा जाता हैं। लेकिन आप beginner है तो आपको STK का उपयोग नही करना चाहिए। क्योंकि इन कीवर्ड पर अरबों की संख्या में आर्टिकल मौजूद होते हैं।

उदाहरण: “Best laptop in 2021”

  1. Long Tail keywords– 3 से अधिक शब्दों वाले कीवर्ड को LTK कहते हैं। यह beginners के लिए बिल्कुल सही हैं। क्योंकि इन कीवर्डस पर ज्यादा प्रतिस्पर्धा नही होती हैं।

उदाहरण: “Best laptop for students in 2021”

 

सही keyword placement क्या है

  1. आर्टिकल के टाइटल में कीवर्ड का उपयोग करें।
  2. कीवर्ड को शूरूआत में, मुख्य बॉडी में और अंत में उपयोग करें।
  3. कोशिश करें कि long tail keyword को कई हिस्सों में तोड़कर, उसे एक पैरेग्राफ में लिखें।
  4. आर्टिकल की length के 10% के आधार पर कीवर्ड को लिखे।
  5. Heading और subheading में भी कीवर्ड को जोड़े।
  6. Image के Alt text में भी कीवर्ड को जोड़े।

 

Free and paid keyword research tool

कीवर्ड को खोजने के लिए keywords tool का उपयोग किया जाता हैं। हम यहां पर कुछ फ्री और पेड टूल्स की लिस्ट दे रहे है जिसकी मदद से आप keyword research कर सकते है।

Free keyword research tool

  1. Google trends
  2. Keyword keg
  3. io
  4. keyword sheeter
  5. WordStream keyword tool
  6. Soolve
  7. Google keyword planner
  8. Google Ads Display Planner tool

 

Paid keyword research tool

  1. SEMrush
  2. Ahrefs
  3. Google keyword planner
  4. Long tail Pro
  5. Serpstat
  6. SpyFu

 

Article indexing on Google (Google search console)

आर्टिकल को SEO के आधार पर लिखने के बाद हमें आर्टिकल को गुगल में इंडेक्स करवाने की जरूरत होती हैं। हालांकि गुगल automatically आर्टिकल को इंडेक्स कर देता हैं, लेकिन आप blogging field में beginner है, तो आपको article indexing के लिए google search console का उपयोग करना होगा।

Google search console को 2015 से पहले webmaster tool के रूप में जाना जाता था। इसके निम्न कार्य हैं:

  1. अपने आर्टिकल को Manually index करने के लिए गूगल को request भेज सकते हैं।
  2. क्रालिंग और इंडेक्सिंग को नियंत्रित किया जा सकता है।
  3. यह साइट के coverage issue, mobile issue और broken links error आदि को हल करने में मदद करता है।
  4. यह आर्टिकल के SEO के लिए बहुत सारे विकल्प देता है।
  5. अन्य देश के ट्राफिक को टारेगट कर सकते है।
  6. यहां से हम index article url को रिमूव कर सकते है।
  7. यहां पर हम sitemap को जोड़ सकते हैं।

नोट: ब्लोगर पर वेबसाइट बनाने के बाद आपको google search console account बनाना है और यहां पर sitemap को submit करना है। यह जरूरी हैं, अन्यथा आपकी वेबसाइट इंडेक्स नही होगी।

  1. आर्टिकल को manually index करने के लिए URL inspection पर क्लिक करें और आर्टिकल के url को पेस्ट करके index की request भेज दीजिए।

 

Backlink kya hai, इसके प्रकार कितने है और उपयोग

अगर आप अपने आर्टिकल पर ट्राफिक लाना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे सही तरीका backlinks को माना जाता हैं। यहां हम संक्षिप्त में समझेंगे कि backlink क्या है और kaise banaye?

Backlink मतलब- एक ऐसा लिंक जिसकी मदद से अन्य वेबसाइट या ब्लोग के यूजर्स आपकी वेबसाइट पर लाते हैं। यह लिंक आपके आर्टिकल से संबंधित होती हैं, जिन्हे comment के द्वारा अन्य वेबसाइट पर publish किया जाता है।

उदाहरण: एक अन्य popular वेबसाइट (A) है, जहां पर प्रतिदिन हजारों यूजर्स आते हैं। अब मैने एक कमेंट लिखा और उस कमेंट में मैने अपने आर्टिकल की एक या दो लिंक डाल दी। अब जो भी यूजर्स उस लिंक पर क्लिक करेगा तो वह यूजर्स वेबसाइट A से हमारे आर्टिकल पर आ जाएगा। इसे backlink कहते है।

 

Backlink दो प्रकार के होते हैं

  1. Do-follow backlink

यह सबसे ज्यादा फायदेमंद लिंक होते है। जो default रूप से हमेशा working में रहते है और आपको लगातार ट्राफिक भेजते हैं। ये निम्नलिखित हैं: Internal link, social link, inline post link, comment link आदि।

 

  1. no-follow backlink

यह एक वेबसाइट से दूसरी वेबाइट को हमेशा के लिए ट्राफिक नहीं भेजते हैं। यह सिर्फ कुछ समय के लिए ट्राफिक देते हैं। जैसे- किसी personal person को लिंक भेजना।

 

Backlink kaise banaye

बेकलिंक्स आप दो तरीके से बना सकते हैं

  1. Comment के द्वारा, अर्थात् आपको अन्य वेबसाइट पर जाकर कमेंट करना हैं और उस कमेंट में अपने आर्टिकल की लिंक देनी है।
  2. Guest post, अर्थात् किसी अन्य पॉपुलर वेबसाइट के लिए फ्री में आर्टिकल लिखकर देना और उस आर्टिकल में अपने आर्टिकल की लिंक को जोड़ना, जिससे आपको ट्राफिक मिल सके। यह तरीका आज के समय में सबसे ज्यादा पॉपुलर हो रहा है।

 

How to make money in India from blog start

हमने अब तक इस आर्टिकल में जाना कि ‘How to start a blog for free?’ और इसकी पूरी जानकारियां प्राप्त कर ली है। अब हम अपने खास टॉपिक पर चलते है कि ‘how to make money in India by blogging’

ज्यादातर लोग ब्लोगिंग को पैसे कमाने के लिए शूरू करते हैं। और ब्लोगिंग से पैसे कमाने का सबसे अच्छा तरिका Google AdSense को माना जाता है। तो अब आगे हम जानेंगे गूगल एडसेंस क्या है और यह काम कैसे करता है पर|

 

Google AdSense क्या है

एडसेंस असल में गूगल का ही प्रोडक्ट है जिसे गूगल द्वारा वर्ष 2003 में applied semantics नामक कंपनी से 102 डॉलर में खरीदा गया और तब से एडसेंस पर गूगल का अधिकार है AdSense गूगल द्वारा चलाई जा रही एक विज्ञापन उपलब्ध कराने वाली सेवा है जिसे कोई भी website creators अपने वेबसाइटों पर text, image, videos आदि विज्ञापन दिखाने हेतु इस कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं

 

Google AdSense कैसे काम करता है और blog से earning कैसे होती है

Google AdSense ब्लोग और वेबसाइट को पैसे कमाने का तरीका प्रदान करता है। अर्थात् AdSense आपके ब्लोग पर विज्ञापनों को प्रदर्शित करता हैं। और अगर आपकी वेबसाइट के यूजर्स उस ads को क्लिक करते हैं तो AdSense आपको उन क्लिक के बदले पैसे देता है। और यह blogging की earning कहलाती है।

 

Google AdSense approval कैसे प्राप्त करें

अगर आप Google AdSense से कमाई करना चाहते हैं तो आपको इसके लिए शूरूआत से ही अपने ब्लोग को तैयार करना होगा। इसके लिए निम्न स्टेप्स को फोलो करें:

 

  1. Unique content writing और unique images

AdSense approval की पहली शर्त यही हैं कि आपके कंटेंट और इमेज युनिक होनी चाहिए। अन्यथा आप किसी भी हालत में earning नही कर सकते है। हालांकि बहुत सारे ब्लोगर सोचते है कि वे translating या किसी टूल की मदद से आर्टिकल लिख लेंगे, तो यह आपकी सबसे बड़ी गलती होगी। इसलिए सभी आर्टिकल बिना चालाकी के unique लिखे।

इमेज  के लिए आप free image provider website का उपयोग कर सकते है। जैसे- Pixabay.com, unsplash.com और pixels.com आदि।

  1. Blog design और navigation menu

अपने ब्लोग के लिए mobile friendly थीम सेलेक्ट करें। थीम को ज्यादा heavy न बनाए, अर्थात् ज्यादा डिजाइन न डालें।

ब्लोग पर अपने आर्टिकल से संबंधित drop down menu बनाए। अपने सभी आर्टिकल को categories करें। ध्यान रखें कि एक आर्टिकल को केवल एक ही category प्रदान करें।

ब्लोग को यूजर्स फ्रेंडली बनाए।

 

  1. important pages का निर्माण

यह भी AdSense के लिए महत्वपूर्ण शर्त हैं, मतलब आपको About us, contact us, privacy policy और dmca जैसे पेजेज का निर्माण करना होगा।

 

  1. minimum requirement

आपको 1000 शब्दों के लगभग 15 आर्टिकल लिखने हैं। लेकिन ध्यान रहें कि AdSense approval भेजने से पहले अपने सभी आर्टिकल को index करवाना अनिवार्य हैं। ज्यादातर लोग यहीं पर गलती कर देते हैं।

आर्टिकल में  भी गलत शब्दों का उपयोग न करें। ऐसे आर्टिकल बिल्कुल न लिखे, जिसके बारे में आपको सही जानकारी न हों।

 

  1. unique niche select

अगर आप जल्दी से AdSense approval लेना चाहते हैं तो आपको trend में चल रहें टॉपिक पर आर्टिकल लिखने की आवश्यकता हैं, इसके लिए आप Google trends tool का उपयोग कर सकते हैं। और अपने niche को भी unique चुने।

 

  1. Sitemap generate

ब्लोग को तैयार करने के तुरन्त बाद साइटमैप को भी बनाए, ताकि समय-समय पर आपके आर्टिकल गूगल पर आसानी से index हो सके। साइटमैप के बिना गूगल आपके आर्टिकल को इंडेक्स नहीं कर पाता है।

 

  1. Custom domain name

जल्दी blog earning को start करने के लिए आपको कस्टम डोमेन खरिदना चाहिए। जिससे आप 1 महीने के अंदर adsense approval ले सकत है। हालांकि फ्री डोमेन (.blogspot.com) पर भी adsense approval ले सकते हैं, लेकिन इसमें समय लगता है।

 

  1. Traffic error

बहुत सारे लोग ट्राफिक के लिए गलत तरिकों का इस्तेमाल करते हैं और अंत: Google AdSense आपको error दे देता हैं। इसलिए गलत तरिकों से ट्राफिक लाने की कोशिश न करें।

नोट: Google AdSense approval आपके ट्राफिक पर depend नही करता है। अगर आपके साइट पर बहुत कम ट्राफिक भी हैं तो आपको approval मिल जाएगा। आपको सिर्फ AdSense की conditions को मानना है।और trending topic पर आर्टिकल लिखना है।

 

  1. broken link या extra links remove

यह भी जरूरी हैं कि आपको अपने ब्लोग से 404 वाली broken link को हटाना है और साथ ही अनावश्यक लिंक्स को भी हटाएं।

 

  1. Social media icon

ब्लोग पर अपने सोशल मीडिया के accounts को भी जोड़ सकते हैं। यह जरूरी नहीं है। लेकिन थीम पर social icon को खाली न छोड़े, मतलब वहां पर अपने अकाउंट की लिंक जरूर दें।

Not: यदि आप ब्लॉगर पर गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल कैसे मिलता है डिटेल में जानना चाहते हैं तो आप हमाारेे इन आर्टिकल्स को जरूर पढ़ें

Google AdSense alternative for blog earning

यहां पर 1 बेस्ट अन्य AdSense provider website की लीस्ट दी गयी हैं आप उनसे भी पैसे कमा सकते हैं। लेकिन ध्यान रखे कि other AdSense provider website Google AdSense की policy को violence न करें।

  • net
  • Chitika
  • Infolinks
  • Amazon Associates
  • Ad Now
  • Taboola
  • RevenueHits

 

India में blog से money earn करने के लिए अन्य तरिकें

हम यहां पर कु अन्य money earn करने के तरिकों की लीस्ट दे रहें है जिसकी मदद से आप blog से अनगिनत पैसे बना (make money in india by blog) सकते हैं। जैसें-

  • Affiliate Marketing
  • Email marketing
  • Promote own business
  • Product review and feedbacks
  • Sponsored video promote

 

अंतिम शब्द:

हमें उमीद है कि यहां से आपको How to start a blog and make money 2021 in Hindi की सभी जानकारियां मिल चुकी होगी। अगर आपको आर्टिकल पसंद आया हैं तो इसे आगे जरूर शेयर करें। और यदि आपके मन में कोई भी

सवाल या सुझाव है जो आप हमसे साझा करना चाहते हैं तो हमें कमेंट सेक्शन में लिख सकते हैं हम आपको रिप्लाई जरूर देंगे इसके अलावा आप इसे अपने सोशल मीडिया ग्रुप पर भी जरूर शेयर करें आज के लिए बस इतना ही बहुत बहुत धन्यवाद नमस्कार दोस्तों

Leave a Comment

error: Content is protected !!