Keyword stuffing क्या है और इसे SEO के लिए danger माना जाता क्यो?

क्या आपने कभी keyword stuffing के बारे में सुना है अगर हां तो क्या आप जानते हैं की यह Keyword Stuffing क्या है और इसे SEO के लिए इसे Danger क्यों माना जाता है यदि नहीं तो आज का हमारा यह लेख पढ़कर आप इस विषय के बारे में बहुत कुछ नया सीख पाएंगे जो किसी भी Blogger के लिए जानना अति आवश्यक है तो जानने के लिए आप हमारे साथ लगातार बने रहे हम आपको कीवर्ड स्टफिंग के बारे में और आप इस keyword spam से कैसे बचें इन सबके बारे विस्तार से जानकारी देंगे तो आइए जानते हैं
जब भी कोई Blogger अपना एक Blog या website बनाता है तो वह चाहता है की जल्द से जल्द उसका blog website वा post, Google के पहले page पर Rank करे (दिखाई दे) और इसके लिए हम सभी blogger’s SEO techniques का इस्तेमाल करते हैं जिसमे SEO friendly post लिखकर इसके आलवा और भी SEO techniques का इस्तेमाल कर और वंही यह Keyword Stuffing भी SEO का ही एक अहम हिस्सा है
तो अब जब हम बात SEO का ही कर रहें है तो SEO के लिए keyword most importent factor होता है जिसे content मे सही जगह प्रयोग करना बहुत जरूरी होता है लेकिन post मे कीवर्ड का बार बार प्रयोग करना कीवर्ड स्टफिंग कहलाता है और इससे हमारे blog वा post दोनों की search ranking प्रभावित होती है और इतना ही नहीं यह किसी भी blog या website के लिए बहुत खतरनाक हो सकता है तथा इससे Google search engine आपके site को हमेशा के लिए बंद भी कर सकता है
इसलिए एक blogger को इस विषय के बारे मे जरूर पता होनी चाहिए क्योंकि यह विषय हमे ज्यादा समझ में तब नहीं आता जब हम blogging के शुरुआती steg पर होते हैं और इन दिनों हमें Blogging तथा SEO की ज्यादा समझ नहीं होती और हम एक बेहतर SEO friendly article लिखकर भी अपने blog post को Google search मे rank नहीं करा सकते या फिर ढूँढने से भी हमें कही नहीं मिलता
यदि ऐसा है और आप भी काफी दिनों से blogging कर रहें हैं पर आपका page बिल्कुल भी रैंक नहीं हो रहा है और आपको एक भी traffic किसी भी search engine से नहीं मिल रहा है तो आपको आज का यह विषय पूरा जरूर पढ़ना चाहिए और बेहतर SEO के लिए इस विषय को समझना चाहिए तो चलिए हम बिना देरी किए हुए शुरू करते हैं आजका यह series
What is keyword stuffing in Hindi

keyword stuffing क्या है ?(what is keyword stuffing in hindi)

Keyword Stuffing, Search Engine Optimization (SEO) का ही एक technique है जिसे Black Hat SEO कहते हैं और इस technique मे page को गलत तरीके से Google के पहले page मे रैंक कराया जाता है जिसमे एक Blogger web page के meta tags और content मे अपने target keyword को बार बार दोहराता है repeat करता है
और ऐसा करके page की रैंकिंग को बढ़ाया जा सकता और site मे traffic भी बढ़ जाता है लेकिन यह एक temporary तरीका है इससे आपके page मे traffic तो कुछ समय के लिए बढ़ जाता है परंतु जैसे ही Google को यह पता लगता है की आपने keyword spam किया है तो आपके site की ranking down हो जाती है तथा कभी भी रैंक नहीं कर सकता
इसके अलावा ऐसा करने से हो सकता है Google आपके site पर penalty लगा दे या site को temporary या permanently हमेशा के लिए बंद भी कर दे इसी लिए किसी भी नये bloggers के लिए यह विषय बहुत महत्वपूर्ण है
हलाकी इस तरीके को कोई भी blogger जान बूझ कर करना नहीं चाहेगा परंतु जब हम blogging field में नये होते हैं और ज्यादा जानकारी नहीं होती तब इस तरह की गलतियाँ कई बार हो जाती है
अब इस विषय को सरल शब्दों में समझें तो इसे उदाहरण से समझना ज्यादा बेहतर होगा- मैं एक पोस्ट लिख रहा हूं और मेरा focus keyword है online paise Kaise kamaye लेकिन मैं इस keyword से page को rank कराने के लिए मै इस कीवर्ड का post में कुछ इस प्रकार बार बार प्रयोग कर रहा हूँ,
ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए, ऑनलाइन पैसे कमाने के टॉप 5 बेस्ट तरीके, ऑनलाइन पैसे कमाने का सबसे सरल तरीका क्या है, ऑनलाइन पैसे कैसे कमाते हैं, ऑनलाइन पैसे कमाने का आसान तरीका क्या है, ऑनलाइन इंटरनेट से पैसे कैसे कमाए,
अब इस paragraph में आपने देखा मैंने 20 से 25 शब्दों के बीच में 6 बार कीवर्ड का प्रयोग कर लिया है जो कि 90% से भी ज्यादा है और यहां साफ-साफ देखा जा सकता है की मैंने जानबूझकर इनका प्रयोग किया है जबकि SEO experts का मानना है की किसी भी post में 2% से 4.1% तक ही keyword का प्रयोग होना चाहिए
तो अब आप इस उदाहरण से यह समझ चुके होंगे कि कीवर्ड का बार-बार प्रयोग करना ही कीवर्ड स्टफिंग कहलाता है |

post या content  में एक Blogger Keyword Stuffing कँहा  कँहा करता हैं

अब तक आपने कीवर्ड स्टफिंग के बारे में समझ लिया होगा अब हम बात करते हैं विषय के सबसे महत्त्वपूर्ण जानकारी पर और वो यह की एक ब्लॉगर या content writer इन वर्ड या वाक्यों को कहाँ कँहा पर रिपीट करने की गलती करता है
 मुख्यतः दो जगह हैं जहां एक ब्लॉगर यह गलती करता है| पहला कंटेंट में और दूसरा मेटा टैग के अंदर अब इनके अलावा भी दो और जगहें हैं जहां इनको रिपीट करने की अक्सर गलती होती है और वो जगह हैं पेज यूआरएल और पोस्ट टाइटल इनमें भी कई बार इन वर्ड या वाक्यों का रिपीट करने की अक्सर गलती करते हैं इन्हें और अच्छे से समझाने के लिए हम आपको नीचे विस्तार से बता रहे हैं
  1. Post content
  2. Post title
  3. Post URL
  4. Post meta tag ( description)
1. Post content– हम कई बार SERP ( search engine result page) में पोस्ट को रैंक कराने के चक्कर में कीवर्ड्स को कंटेंट में बार बार प्रयोग करते हैं और ऐसा करने से पढ़ने वाले को problem होती है जो कि हमें बिल्कुल ऐसा नहीं करना चाहिए
ऐसा करना किसी भी ब्लॉगर के लिए या साइट के लिए बहुत नुकसानदेह हो सकता है इसलिए हमें अपने पोस्ट के कंटेंट में कीवर्ड का 1% से 2% तक ही रखना चाहिए कहने का यदि आप 200 वर्ड का आर्टिकल लिख रहे हैं तो आपका focus keyword एक ही बार आनी चाहिए
2. Post title– में भी कई बार कई ब्लॉगर यह गलती करते हैं और एक ही वर्ड या वाक्यों को दो से तीन बार प्रयोग कर देते हैं जो कि बिल्कुल सही तरीका नहीं है और इससे भी आपके पोस्ट में keyword spam के चांस बढ़ जाते इसलिए उस टाइटल में कभी भी दो या दो से अधिक वर्ड का प्रयोग ना करें
3. Post URL– में भी ब्लॉगर्स यह गलती करते हैं और कीवर्ड को बार-बार रिपीट करते हैं इससे भी कीवर्ड स्पैमिंग के चांस होते हैं ऐसा बिल्कुल ना करें
4. Meta tags- यह पोस्ट का description भी कहलाता है और blogger’s यहां भी सेम गलती को दोहराते है और अपने फोकस वर्ड या वाक्यों का बार-बार प्रयोग करते हैं तो यहां से भी spamming के ज्यादा चांस होते हैं
इसलिए meta tags में हमेशा अपने content के word का ही प्रयोग करें और 140 से 150 शब्दों का मेटा description रखें
इन बातों से आपको यह तो पता चल ही चुका होगा कि एक ब्लॉगर कीवर्ड स्टफिंग कहां कहां करता है

Keyword Stuffing को SEO के लिए Danger क्यों माना जाता है

इसका सीधा संबंध आपके ब्लॉग वेबसाइट और पोस्ट रैंकिंग से है जैसा की हमने ऊपर जिक्र किया था कोई भी blogger अपने वेबसाईट और पोस्ट को SERP (search engine result page) मे रैंक कराने के लिए SEO techniques का इस्तेमाल करता हैं और कीवर्ड स्टफिंग भी SEO का ही एक हिस्सा है पर जैसे की हर चीज की एक लिमिट होती है ठीक उसी प्रकार की बातें SEO के लिए भी लागू होतीं हैं अब यदि आप एसईओ मे इन बातों को हल्के मे ले कर ब्लॉगिंग करते हैं तो यह आपके लिए बिल्कुल भी सही नहीं है
और एसईओ के कुछ ऐसे विषय है जिनको लिमिट से अधिक प्रयोग करने पर लाभ होने की बजाय ब्लॉग या वेबसाईट को हानी हो सकती है और कीवर्ड को भी एसईओ में आप लिमिट से ज्यादा प्रयोग नहीं कर सकते वहीं एस ई ओ में इस लिमिट को प्रतिशत में आंका जाता है
तो अब जानतें हैं क्या वाकई यह विषय एसईओ के लिए बहुत danger है क्या सच में ऐसा करने से Google हमारी site को Banned या penalized कर सकता है तो इसका सीधा और सही जवाब है हाँ यदि आप ऐसा करतें हैं तो आपको इसके लिए इन परेशानीओं का सामना करना पड सकता है
इस प्रकार की गलती हममें से अधिकांश नयें bloggers करते हैं और अपने ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन मे रैंक कराने के चक्कर मे कीवर्ड का बहुत अधिक बार प्रयोग कर लेते हैं और उन्हे लगता की सिर्फ कीवर्ड को बार बार प्रयोग करने से उनकी site rank हो जाएगी जबकि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है पेज को रैंक करने के लिए सिर्फ कीवर्ड ही काफी नहीं होता बल्कि आपके द्वारा लिखा गया content की quality इसमे सबसे ज्यादा भूमिका निभाती है इस लिए ऐसी गलती कभी भी नया करें आइए अब हम जानते हैं इसे एस ई ओ के लिए खतरा क्यों बताया जाता है
  • ऐसा करने से एक यूजर को आर्टिकल पढ़ने मे परेशानी होती है उन्हे बोरिंग लगने लगता है और इस वजह से यूजर आपके वेब पेज से वापिस मूव कर जाते है और इससे पेज की Bounce Rate बढ़ने लगता है और गूगल को यह लगने लगता है की आपके page मे अच्छा कंटेन्ट नहीं है इस लिए यूजर बैक कर जाते है
  • यदि आप कीवर्ड को बार बार रिपिट करते हैं तो आप अपने वेब पेज मे चाहे जितना भी अच्छे से अच्छा SEO करें पर आपका SEO पूरी तरह खराब हो जाता है
  • ऐसा करने से आपका पोस्ट का एक दम बोरिंग बन जाता है और उस पेज मे कोई भी यूजर ज्यादा समय spend नहीं करता
  • आर्टिकल मे कीवर्ड को बार बार प्रयोग करने से google यह समझ जाता है की आप ऐसा इस लिए कर रहे हैं ताकि आपका पोस्ट सर्च इंजन मे ऊपर रैंक करे और ऐसा करने पर गूगल आपके पेज को सर्च पर दिखाना बंद कर सकता या ये भी हो सकता की आपके साइट को penalized कर दे जिससे आपको बहुत नुकसान उठाना पड़ जाए
  • इस प्रकार की गलती से गूगल आपके साइट को temporary या permanently हमेशा के लिए ब्लॉक भी कर सकता है
  • यदि आप इन कीवर्डस का इस प्रकार अनावश्यक प्रयोग करते हैं तो गूगल आपके पोस्ट को या ब्लोग वेबसाइट को सर्प में दिखाना बंद कर सकता हैं जिससे आपकी कमाई पर भी विपरीत असर पड सकता है

अब आप समझ ही चुके होंगे की कीवर्ड स्टफिंग को क्यो एस ई ओ के लिए danger माना जाता है और ऐसा करके यदि कोई भी blogger यह सोचता है की वह अपने ब्लोग वेबसाइट या पोस्ट को Google सर्प में रैैंक करा सकता है तो उनकी सबसे बड़ी भूूल है

हाँ कुछ दषक पहले कुछ लोग ऐसा करके अपने blog post को rank कराने मे सफल जरूर हुए पर आज उनकी साइट हमेशा के लिए बंद हो चुका है वहीं आज के समय में इस तरीके को अपनाकर कोई भी ब्लोगर सफल नहीं हो सकता इसलिए आप ऐसा करने की बिलकुल भी भूल ना करें

एक blogger keyword stuffing क्यों करता है

इस topic का सबसे महत्वपूर्ण विषय की आखिर कोई भी ब्लोगर ऐसा क्यो करता है तो आइये इसके बारे में भी विस्तार से चर्चा करते हैं blogging के शुरुआती दिनों में एक नया ब्लोगर अपने page को जल्द से जल्द  Google search page में रैंक कराने के चक्कर में ऐसा करतें हैं हालांकि यह उनकी कम अनुभव के कारण भी भूल हो सकती है
पर हमारे इन सबकुछ बाताने के बाद भी कुछ ऐसे bloggers अब भी ऐसे होंगे जो इन बातों को गम्भीरता से लेना नही चाहेंगे और ऐसा वो जानबूझ कर करेंगे ताकी वो कम से कम समय में ज्यादा पैसे अपने ब्लोग वेबसाइट से कमा सकें
ये ऐसे लोग हैं जो Google को बेवकूफ समझते हैं या फिर खुद को over smart और उन्हे लगता है की वो ये सब करके गूगल की नजर से बचे रहेंगे
तो हम आपको बता दें माना की आप ऐसा करके कुछ समय के लिए गूगल पर रैंक भी कर जाओ लेकिन जैसे ही यह बात गूगल को पता चलेगा आप हमेशा के लिए ना तो अपने ब्लोग वेबसाइट से पैसे कमा सकेंग और ना ही एक सफल ब्लोगर बन पाएंगे
इसलिए ज्यादा कमाई के चक्कर में इस तरीके को बिलकुल भी ना अपनाएं क्योकि Google बहुत जल्द यह समझ जाता है की आप क्या कर रहे हैं
तो अब आप यह समझ चुके होंगे की कोई भी ब्लॉगर इस तारिक को सिर्फ इस लिए अपनाता है ताकि वो कम समय मे अपने वेब पेज को रैंक कर सकें और फेमस हो सके पर हमारी आपसे यही राय है की आप इस shortcut को ना अपनाए क्योंकि यह बहुत कम समय के लिए काम आने वाला तरीका है

keyword stuffing से blog को कैसे बचाएं

अब तक आपने इस विषय के बारे मे काफी कुछ जानकारी जुटा ली होगी पर आपके मन मे अब भी यह बात जरूर आ रही होगी की हम अपने blog post को इससे कैसे बचा सकते हैं तो आइए हम आपको इसके बारे मे भी बताते हैं की आप इससे कैसे बच सकते हैं
  1. एक new post को लिखते समय इस बात को हमेशा ध्यान दें की आप सिर्फ और सिर्फ पोस्ट से संबंधित keywords का ही प्रयोग और सिर्फ जानकारी उन्ही के बारे मे दें ऐसे keyword का बिलकुल भी प्रयोग ना करें जो की post से संबंध ना रखते हों या पोस्ट से unrelated or unnatural हों और हमेशा Quality content पर ध्यान दें.
  2. इससे बचने के लिए पोस्ट URL को कम से कम शब्दों का रक्खें URL short बनाएं और यंहा keyword को हो सके तो सिर्फ एक बार प्रयोग करने की कोशिश करें इसके अलावा Extra keyword जो आ रहें हों उन्हे  remove करें.
  3. keyword density और keyword stuffing एक दूसरे से जुड़े हुए विषय हैं कहने का आप अपने पोस्ट मे जितना अधिक main tareget keywords का प्रयोग करेंगे आपके पोस्ट की keyword density बढ़ेगी इसका मतलब आप पोस्ट में main tareget keywords का अधिक बार प्रयोग कर रहें हैं बतादें एक पोस्ट मे keyword को 2% से 5% तक रखना ही सही माना जाता है इससे ज्यादा बार कीवर्ड को repeat ना करें और अपने टारगेट कीवर्ड का 1.5% से 2% तक ही प्रयोग करें.
  4. Lis keywords पे सबसे ज्यादा दे ना की target words पे जिसे लोग search करते हैं Lis मतलब जो लोग ढूंढते हैं उनके relative words का प्रयोग करें वहीं यदि आप एक wordpress user है तो yoast SEO plugin यूज use करें जो आपको quality content लिखने में मदद् करता है yoast SEO plugin मे आप target keyword के presents को आसानी से देख सकते हैं की आपनें कीवर्ड को कितनी बार use किया है और इसका कितना presents है
  5. यदि आप अपना ब्लोग blogspot पर बनाएं हैं जोकि एक free platform है तो यहाँ इन सबसे बचने के लिए आपको स्वयम ही इसके बारे में होशियार रहना होगा क्योकि यहाँ ऐसा कोई भी plugin मौजूद नहीं है इसके अलावा आप जिस भी विषय पर post लिख रहें हैं Content को हमेशा पूरा लिखें और related topic को भी post मे cover करनें की पूरी कोशिश करें
  6. Post को boring ना लिखें इसका सीधा मतलब यह है कि आप उन शब्द और वाक्यों का अनावश्यक रूप से प्रयोग ना करें जिससे पोस्ट boring हो
  7. जितने भी heading हो उनमें सिर्फ आवश्यकता पडने पर ही keywords का प्रयोग करें अन्यथा ना करें
  8. Post में अधिक internal linking and external linking, add ना करें और एक ही link को बारबार add ना करें
  9. High quality content और user friendly content लिखने की कोशिश करें जिससे आपके site को Google कभी भी banned ना करे और पोस्ट हमेशा top position search में सबसे ऊपर बना रहे अपने नजरिये से कभी भी पोस्ट ना लिखें user के नजरिए से सोचें
  10. Post के meta tags में सिर्फ़ post related keywords का ही प्रयोग करें और सिर्फ कीवर्ड का इस्तेमाल ना करें बल्कि keyword को मिलाकर 160 character तक meta tags description बनाएं
यदि आप इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए post लिखते हैं तो निश्चित ही आप अपने blog post को कीवर्ड स्टफिंग जैसे समस्या से बचा सकतें हैं और पोस्ट लिखने बाद उसे जरूर चेक करें यदि आपको लगता है कि आप कीवर्ड को repeat कर रहे हैं तो उसमें बदलाव करें

Conclusion

तो आज के इस लेख में हमनें सीखा Keyword Stuffing kya hai और इसे SEO के लिए इसे Danger क्यों माना जाता है इसके बारे में जो एक नये और पुराने सभी bloggers के लिए helpful साबित जरूर होगी बस मेरा आप सभी bloggers से यही कहना है कि आप blogging को short term के लिए ना सोचें बल्कि long-term Gol के नजरिए से सोचें जिससे आप एस सफल blogger बन पाएं
उम्मीद है जानकारी से कुछ नया सीखने को मिला होगा और आपको इससे benefit जरूर होगा तो जानकारी पसंद आई हो तो तो हमें comment कर जरूर बताएं और आप इसे ज्यादा से ज्यादा social media पर share करें इसके अलावा यदि आपके कोई भी सुझाव या सवाल हो तो भी आप हमें comment section मे बता सकते हैं
अब आज के लिए बस इतना ही मिलेंगे जल्द एक नई जानकारी मे तबतक के लिए धन्यवाद नमस्कार दोस्तों

Leave a Comment