VPN क्या है इसके क्या फायदे हैं – What is VPN in hindi 2020

यदि आप mobile phone, laptop computer और internet का उपयोग करते हैं तो कभी ना कभी आपने VPN का नाम जरूर सुना होगा और आपके मन में भी यह जानने का ख्याल जरूर आया होगा की VPN क्या है इसके क्या फायदे और नुकसान है इसके बारे में जानने की इच्छा जरूर हुई होगी तो कोई बात नहीं यदि आपको भी VPN क्या है इसे कैसे यूज करते हैं इसके क्या फायदे हैं और क्या नुकसान है इसके बारे में जानना है तो हमारा आज का यह लेख इसी विषय पर आधारित है जिसमें आपको VPN से जुड़ी तमाम जानकारी मिल जाएगी

इस बात को तो आप सभी जानते हैं हम हर रोज अपने मोबाइल फोन लैपटॉप या कंप्यूटर में किसी न किसी website पर visit करते ही रहते हैं और कई ऐसी जानकारियों के लिए हमें उन वेबसाइटों पर registered भी होना पड़ता है जिसके लिए हमें अपना personal information भी देना होता है इसके अलावा कई ऐसे files download करना पड़ता है जैसे audeio, video and images और online transactions करना जैसे जरूरी काम शामिल होते हैं अब ऐसे में हमारी पर्सनल जानकारी इंटरनेट पर सार्वजनिक होने का खतरा बढ़ जाता

और कहीं ना कहीं इस बात से आप भी वाकिफ होंगे की इंटरनेट हमारे लिए आज जितना मुश्किल को आसान बना दिया है इसके साथ साथ हमारे लिए कई मुसीबतों को भी लाकर खड़ा कर दिया है आज इंटरनेट पर आपकी एक गलती आपको बहुत बड़े खतरे का शिकार बना सकती है

इंटरनेट जहां जानकारियों से भरा पड़ा है वहीं इंटरनेट पर बुरे लोगों से भी बाजार यहां भरा पड़ा है hackers, blackmailers, snoopers, जैसे लोग इंटरनेट पर ऑनलाइन गतिविधियों पर हर वक्त नजर गाड़े रहते हैं ताकि वह किसी तरह से लोगों की पर्सनल जानकारी तक पहुंच सके और उन्हें नुकसान पहुंचा सकें

पर बदलते वक्त के साथ internet security को भी ध्यान में रखा गया और एक ऐसे अविष्कार को विकसित किया गया जिसकी मदद से इन सभी खतरों को कम किया जा सके और इंटरनेट का सुरक्षित ढंग से उपयोग हो सके और इसी आविष्कार को VPN का नाम दिया गया तो आज के इस लेख में हम इसी VPN के बारे में आपको विस्तार से जानकारी देने वाले हैं तो चलिए शुरू करते हैं

VPN क्या है इसके क्या फायदे हैं - What is VPN in hindi 2020
What is VPN

 

VPN Kya hota hai/ what is VPN in hindi 2020

VPN का पूरा नाम है virtual private network यह एक लोकल नेटवर्क की तरह काम करता है जो आपके पब्लिक इंटरनेट या Wi-FI network को local network में बदल देता है और उसे secure connection बना देता है VPN यह ऐसा तकनीक है जो नेटवर्क को सुरक्षित रखने की भूमिका निभाती है

इसे आसान भाषा में कुछ इस तरह समझा जा सकता है आप अपने mobile phone या router में जो इंटरनेट यूज कर रहे हैं वह किसी कंपनी का होगा जैसे जिओ एयरटेल रिलायंस या कोई भी और आप इनके internet connection के जरिए ही browsing कर सकते हैं

अब आप browser पर कुछ भी browsing कर रहे होते हैं forexample- VPN क्या है जब आप यह request ब्राउजर के जरिए भेजते हैं तो सबसे पहले यह रिक्वेस्ट और आपका IP Address जाता है आपके ISP यानी आपके internet provider company के पास उसके बाद आपके रिक्वेस्ट को forward किया जाता है उस server को जहां वो Data Store होता है उसके बाद आपके request का जवाब उस IP address से दिया जाता है और फिर अंत में आपने जो रिक्वेस्ट भेजा था उसका जवाब दिया आता है जो आपके ब्राउज़र में स्क्रीनिंग होती है

अब ऐसे में कहीं आपका internet service provider company या कोई थर्ड पर्सन आपको ट्रैक तो नहीं कर रहा कि आप क्या रिक्वेस्ट भेज रहे हैं क्या जानकारी ले रहे हैं तो इन्हीं सब से बचने के लिए VPN का उपयोग किया जाता है

कोई भी VPN के इस्तेमाल से इंटरनेट पर अपनी पर्सनल जानकारी या डाटा को सुरक्षित कर सकता है ताकि एक हैकर किसी भी तरह से हमारी पर्सनल डाटा तक ना पहुंच सके वैसे ज्यादातर VPN का इस्तेमाल online कामों में बड़ी-बड़ी organisation सरकारी कंपनियां education institution और Corporation के कामों के लिए किया जाता है ताकि किसी भी तरह उनका डाटा लीक ना हो और सुरक्षित रहे क्योंकि इनके पास बहुत important data होता है

वहीं इस वीपीएन का इस्तेमाल कोई भी अपने मोबाइल फोन लैपटॉप या कंप्यूटर में ब्राउज़िंग करने के लिए कर सकता है और इसके उपयोग से अपनी छोटी बड़ी हर जानकारी को सिक्योर कर सकता है क्योंकि वीपीएन आपके किसी भी data को इंटरनेट पर गुप्त तरीके से server को भेजता है जिससे किसी भी हैकर को यह पता नहीं चलता की डाटा कहां भेजा जा रहा है और कहां से भेजा जा रहा है तो इससे आपका जो भी डाटा है वह सुरक्षित तरीके से आप तक पहुंच जाता है

वीपीएन कैसे काम करता है VPN in hindi

VPN का मुख्य काम होता है आपके  internet connection और आप जो ब्राउजिंग करते हैं इन दोनों को secure करना आपके और सरवर के बीच में जो भी डाटा आपस में शेयर की जाती है उसे सुरक्षित करना जिससे Internet पर आपकी identity और आप जो भी ब्राउजिंग करते हैं सुरक्षित रहे किसी को इसकी जानकारी ना हो वहीं वीपीएन के इस्तेमाल से आप ऐसे वेबसाइटों को भी एक्सेस कर सकते हैं जिन्हें हमारे देश में बैन या प्रतिबंधित कर दिया गया है लेकिन दूसरे देशों में चल रहे है तो आप ऐसी वेबसाइटों को भी वीपीएन की मदद से बहुत easily access कर सकते हैं और उन में जो भी जानकारी है आप ले सकते हैं

VPN किसी भी device के लिए एक local server की तरह काम करता है जब हम अपने device मे VPN को सक्रिय कर लेते हैं तब हमारा डिवाइस एक Local Network की तरह काम करने लगता है और जब आप अपने मोबाइल फोन लैपटॉप या computer Browser में ऐसे वेबसाइटों को सर्च करतें हैं जो हमारे देश में block है पर अन्य दूसरे देशों में चल रहीं हैं तब हमारा वीपीएन काम करना आरंभ कर देता है और हमारे request पर उस blocked websites के सर्वर पर रिक्वेस्ट पहुंचाता है जो दूसरे देशों में चल रही है अब ऐसे में जो हमारे ISP यानी internet service provider company है उनको यह बिल्कुल भी पता नहीं चलता की यह रिक्वेस्ट जो आ रही है वह किस IP address से आ रही है और कहां जा रही है क्योंकि यहां हमारा वीपीएन सक्रिय होता है जो हमारे correct location और आईपी ऐड्रेस को बदलता रहता है या नेटवर्क को encrypt कर देता है जबकि VPN connect होता है उस देश के वीपीएन से जहां यह website चल रहीं होतीं हैं क्योंकि हमारे वीपीएन और उस वीपीएन के बीच में जो नेटवर्क कनेक्शन बनता है जो encrypt होता है जिससे कोई भी उस नेटवर्क से personal detail या data को चोरी नहीं कर सकता वही आप बहुत आसानी से उस वेबसाइट को एक्सेस कर पाते हैं

अगर हम इसे उदाहरण से समझें तो कुछ इस तरह समझा जा सकता है इस बात को आप सब जानते हैं Facebook China में बैन है लेकिन अन्य दूसरे देशों में बैन नहीं है

पर वहीं हम चाइना में हैं और हमें Facebook use करना है तो हम चाइना में रह कर ही फेसबुक कैसे यूज कर सकते हैं अब ऐसे हमें फेसबुक यूज करने के लिए जरूरत होगी एक VPN network की ताकि वीपीएन को फेसबुक के सरवर से connect किया जा सके

अब मान लीजिए फेसबुक का सरवर मौजूद है India मे। लेकिन हम उसे वीपीएन के थ्रू कनेक्ट करने के बाद चाइना में भी बहुत अच्छे से यूज कर सकते हैं क्योंकि अब आप एक virtual private network यानी वीपीएन पर है और जब आप अपने ब्राउज़र में Facebook search करते हैं तो आपका VPN request को फेसबुक के सर्वर से कनेक्ट कर देता है और इससे ना तो आपके ISP यानी internet service प्रोवाइडर को यह पता लगता की request कहां जा रही है किसके पास जा रही है और ना ही फेसबुक को यह पता लगता की यह request कहां से आ रही है क्योंकि आपका VPN network को लोकल नेटवर्क में बदल देता है जिसकी वजह से फेसबुक और इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर को यही लगता है की यूजर लोकल नेटवर्क से है

तो अब तक आपने जाना VPN kya hai और वीपीएन कैसे काम करता है इनके बारे में अब हम जान लेते हैं वीपीएन यूज करने के क्या-क्या फायदे और नुकसान है इनके बारे में

वीपीएन यूज करने की फायदे और नुकसान क्या है

हम बात करें वीपीएन यूज के फायदों के बारे में पर उससे पहले यह भी जान लेते हैं वीपीएन कितने प्रकार होते हैं वैसे देखा जाए तो वीपीएन मुख्य दो प्रकार के होते हैं
  1. Free VPN
  2. Pad VPN

हम पहले बात कर लेते हैं free VPN Service के बारे में इसे इस्तेमाल करने के क्या फायदे और नुकसान है

 फ्री वीपीएन सर्विस यूज करने के फायदे और नुकसान

  • फ्री वीपीएन पूरी तरह मुफ्त होते हैं जिनके आपको पैसे नहीं लगते ऐसे वीपीएन आपको free में सर्विस प्रोवाइड कराती हैं इनकी जितने भी सर्विसेज है उनका आप फ्री में लाभ ले सकते हैं
  • यदि आप free VPN Service का इस्तेमाल करते हैं तो यहां आपको ऐड दिखाई देंगे इसके अलावा आप जो भी सर्विस यूज करेंगे उसमें लिमिटेड bandwidth का ही आप यूज कर सकते हैं हां इन वीपीएन की मदद से भी आप ऐसे वेबसाइटों को भी एक्सेस कर सकते हैं जो हमारे देश में बैन है ब्लॉक हैं
  • यदि आप फ्री वीपीएन का इस्तेमाल करते हैं तो आपका highly confidental या personal information से जुड़ी किसी भी जानकारी का ऐसे वीपीएन पर उपयोग करना बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं है इससे कोई भी वीपीएन प्रोवाइडर कंपनी आपकी पर्सनल जानकारियों का दुरुपयोग या किसी hacker के साथ साझा कर सकता है जिससे आपको बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है क्योंकि वीपीएन पर आपका सारा data होता है जैसी आप क्या-क्या access करते हैं आपका ईमेल आईडी क्या है जैसी जानकारियां वीपीएन पर सेब होती हैं इसीलिए फ्री वीपीएन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए
पैड वीपीएन सर्विस यूज करने के क्या फायदे हैं 
  • एक पैड वीपीएन पूरी तरह से secure होता है और आपके डाटा को पूरी तरीके से सुरक्षित रखता है और इसी वजह से यह VPN free नहीं होते
  • अगर आप पैड वीपीएन का इस्तेमाल करते हैं तो VPN Service प्रोवाइडर कंपनी आपकी किसी भी data को ट्रैक नहीं करता आपकी किसी भी जानकारी का किसी भी तरह दुरुपयोग नहीं करता आप की हर जानकारी गुप्त होती है और पैड वीपीएन का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप अनलिमिटेड bandwidth का लाभ ले सकते हैं इसके साथ-साथ आपको कई अन्य सुविधाएं भी दी जाती है

तो अब आपको इससे यह समझने में आसानी हुई होगी कि आपको अपने मोबाइल, लैपटॉप या कंप्यूटर के लिए free VPN का यूज़ करना सही होगा या फिर पैड वीपीएन

VPN को कैसे यूज़ करें

अब तक हमने ये जाना VPN क्या है वीपीएन कैसे काम करता है और इसके क्या क्या फायदे और नुक्सान के बारे में अब आपके मन में यह भी जानने की इच्छा होगी की vpn को हम अपने मोबाइल फोन लैपटॉप और कम्प्यूटर में कैसे यूज कर सकते हैं तो चलिए अब हम इसके बारे में भी जान लेते हैं
 
लैपटॉप या कंप्यूटर में vpn को  कैसे यूज़ करें 
आजके इस लेख में मैं आपको बताने वाला हूँ अपने लैपटॉप की मदद से Opera Browser में vpn को इनेबल कैसे करते हैं तो आइये सीखते हैं सबसे पहले आपको अपने लैपटॉप या कंप्यूटर में ओपेरा ब्राउज़र को Download करना होगा इसके लिए आप अपने ब्राउज़र में ओपेरा सर्च कर सकते हैं या फिर ऊपर दिए लिंक पर click करके भी इसे डाउनलोड कर सकते हैं उसके बाद आप इसे install कर लीजिये जब आप इसे इनस्टॉल करके ओपन करते हैं तो इस पेज पर पंहुच जाते हैं

जब आप इस पेज पर पहुंच जाते हैं तो यहां लेफ्ट साइड में आपको सेटिंग का option देखने को मिल जाता है आप सेटिंग पर क्लिक कीजिए आप जैसे ही सेटिंग पर क्लिक करते हैं तो नीचे दिखाई दे रहे स्क्रीनशॉट वाले पेज में पहुंच जाते हैं

इस पेज में आपको एडवांस का एक ऑप्शन दिखाई दे रहा होगा आप इस advance पर क्लिक कीजिए आप जैसे ही एडवांस पर क्लिक करते हैं तो आपके सामने तीन ऑप्शन निकाल कर आ जाते हैं यहां पर आपको फीचर्स का ऑप्शन दिखाई दे रहा होगा आप इस फीचर्स पर क्लिक कीजिए क्लिक करते ही अगला पेज नीचे दिए गए स्क्रीनशॉट की तरह निकल कर आती है

इस पेज में सबसे ऊपर ही आपको वीपीएन का ऑप्शन डिसएबल दिखाई दे रहा होगा आपको इस disable बटन को इनेबल कर देना है अब आपका VPN enable हो चुका है वीपीएन इनेबल होने के बाद आपका पेज कुछ इस तरह दिखाई देगा जो आप नीचे स्क्रीनशॉट पर देख पा रहे हैं

तो इस तरीके से आप अपने लैपटॉप या कंप्यूटर में Opera browser में VPN Service को इनेबल कर सकते हैं और इसका यूज कर सकते हैं

Top 10 Best VPN software for Windows/ विंडोज़ के लिए शीर्ष 10 सर्वश्रेष्ठ वीपीएन 2020

अब हम आपको कुछ चुने हुए टॉप 10 वीपीएन विंडोज 10 या विंडोज के सभी कंप्यूटर के लिए बता रहें जो प्रोफेशनल VPN service के लिए जाने जाते हैं हम नीचे उनका लिस्ट दे रहे हैं जहां से आप अपने लिए इनमें से किसी एक vpn का चुनाव कर सकते हैं और इंटरनेट में सुरक्षित ब्राउजिंग का लाभ ले सकते हैं बिना किसी डर के
  1. Surfshark VPN
  2. CyberGhost VPN
  3. Express VPN
  4. Nord VPN
  5. Private Internet access vpn
  6. Vyprnvpn
  7. IPVanish VPN
  8. Private VPN
  9. Zenmate
  10. Hotspot Shield

इस टॉप 10 की लिस्ट में जितने भी vpn बताए गए हैं सभी प्रोफेशनल लेबल के हैं जिनका आप उपयोग अपने किसी भी डिवाइस में कर सकते हैं जैसे Android, iOS, Windows, MacOS, Linux आदि यह जितने भी VPN software है सभी पैड वीपीएन जिन्हें आप अपने लिए चुन सकते हैं और इंटरनेट पर अपनी privacy को सिक्योर बना सकते हैं

 

बेहतरीन Android VPN/ 2020

अब यदि आपके पास लैपटॉप या कंप्यूटर नहीं है और आप अपने  Android mobile के लिए android vpn ढूंढ रहे हैं जो प्रोफेशनल लेबल के हो तो हम आपके लिए कुछ चुने हुए android vpn लेकर आए जिन्हें आप अपने एंड्राइड मोबाइल के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं और इंटरनेट पर अपनी privacy को सिक्योर बना सकते हैं वैसे हमने ऊपर जितने भी वीपीएन बताएं सभी हार डिवाइस पर सपोर्टेबल है और प्रोफेशनल लेवल के है आप उन्हें भी इस्तेमाल कर सकते हैं फिर भी हम आपको नीचे एंड्रॉयड के लिए कुछ चुने हुए VPN को दर्शा रहे
  • Buffered VPN
  • TunnelBear VPN
  • Proton VPN
  • Golden frog VyprnVPN
  • Keepsolid VPN ultimated
  • TorGuard VPN
  • Tiger VPN
  • Pure VPN
  • Ivacy VPN
  • Strong VPN

अब यदि आपको free Android VPN यूज कर लो तो यहां जितने भी पैड वीपीएन बताए गए हैं उनके फ्री वर्जन भी आपको Google Play Store में मिल जाएंगे तो आप उन्हें इंस्टॉल कर सकते हैं और यूज कर सकते हैं

लेकिन जैसा कि हमने आपको बताया free VPN आप सिर्फ उन कामों के लिए ही करें जिन website को हमारे देश में बैन कर दिया गया है पर आप उन्हें पढ़ना चाहते हैं उनके बारे में जानना चाहते हैं आप free VPN का इस्तेमाल अपनी पर्सनल काम जैसे बैंकिंग email ID और कई जरूरी कामों के लिए ना करें

ऐसा करना आपके लिए मुसीबत खड़ी कर सकती है यदि आपको सुरक्षित ढंग से इंटरनेट पर ब्राउजिंग करना है तो आप ऊपर बताए गए जितने भी VPN software है इन्हें खरीदकर उपयोग कर सकते हैं और इंटरनेट पर अपनी सभी जानकारियों को सिक्योर कर सकते हैं

अब मुझे यहां यह बताने की जरूरत नहीं है कि आप इन्हें Google Play Store से कैसे download कर सकते हैं इन्हें कैसे install कर सकते हैं बस आपको इन्हें इस्तेमाल करने के लिए अपना कंट्री बस बदलना होगा जिससे आपका location चेंज हो जाएगा और आप इन वीपीएन का इस्तेमाल बड़ी आसानी से कर सकते हैं

Conclusion

तो हमने सीखा वीपीएन क्या है कैसे काम करता है इसके क्या फायदे और नुकसान है और आपको किन वीपीएन का इस्तेमाल करना चाहिए इन सभी के बारे में हमने इस लेख में जाना यदि हमारे इस लेख में लिखावट में या समझ में कोई त्रुटि हो तो आप हमें कमेंट के जरिए बता सकते हैं हम उन्हें ठीक करने की पूरी कोशिश करेंगे साथ ही हम ये उम्मीद करते हैं की दी गई जानकारी आपको पसंद है जरूर आई होगी यदि जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें वहीं सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी शेयर करना ना भूले और आपकी कोई प्रतिक्रिया या सुझाव जो आप हमें देना चाहते हैं वह भी आप हमें कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं अब आज के लिए बस इतना ही जल्द मिलेंगे एक दूसरी जानकारी में तब तक के लिए नमस्कार दोस्तों

 

Leave a Comment