ping क्या होता है? ping test कैसे करें/ ping meaning in hindi 2020

what is ping, पिंग क्या है, ping test कैसे करें, और ping meaning in hindi कई ऐसे मोबाइल फोन, लैपटॉप यूजर है जिनके मन में ping क्या है यह जानने की इच्छा होगी वन्ही कई ऐसे लोग हैं जिन्हें इसके बारे काफी कुछ जानकारी होगी पर कोई नहीं यदि आपने पिंग का नाम पहली बार सुना है या आपको इसके बारे में जानना है तो हम आपको पिंग के बारे में इस लेख के माध्यम से सबकुछ विस्तार से बताने वाले है ताकि आप जैसे और भी लोगों को जिन्हें ping क्या है, what is ping, ping test कैसे करें या ping meaning in hindi, ping का full form क्या होता है  जैसे बातों का अब तक जानकारी नहीं है तो आप इस लेख को पढ़कर इसके बारे में सबकुछ जान पाएंगे सीख पाएंगे. ping देखा जाय तो वास्तव में एक ऐसा network utility tool है जो यह verify करता है की network data packet बिना त्रुटीयों ( Errors) के किसी पते (addresses) पर वितरित  (Distribute) करने में सक्षम है या नहीं ping utility का Normaly Used नेटवर्क त्रुटियों (network Errors) को चेक करने में किया जाता है

ping क्या होता है? ping test कैसे करें/ ping meaning in hindi 2020

ping का यह शोर्ट नाम है यदि हम इसके हिंदी अर्थ की बात करें तो इसका अर्थ होता है “ध्वनी का स्पंदन” जिसका इस्तेमाल करके हम कई चीजों का पता लगा सकते हैं For Example यदि हमें किसी website के server का ping के जरिये यह पता करना है की वह उस website से connect है या नहीं तो हम इसका पता ping request भेजकर लगा सकते हैं. वंही इसका पता हर computer, laptop, mobile phone, उपयोगकर्ता लगा सकता है की उनका system server से connect है या नहीं

अब हम जान लेते है ping का फुल फॉर्म क्या होता है तो ये है आपके इस question का answer (“pocket internet groper”) है इसकी शुरुआत 1983 में mike muuuss नाम के वैज्ञानिक द्वारा किया गया था इन्होने इसका अविष्कार network के errors को ठीक करने के लिए किया था इसका इस्तेमाल किसी के वर्तमान को चेक करने में किया जाता है

हमें ping test करने के लिए दो चीजों की आवश्यकता होती है पहला host की और दूसरा client की अब इसे ऐसे समझते हैं आपका computer client है और जो host network है उसे ping request भेजता है तो यदि इस समय host, network से कनेक्ट है तो client को यानि आपके computer को जवाब (response) देता है अब इस दौरान request और response आने के बीच में जो वक्त लगता है इस समय को ping collect करता है

ping test के इस्तेमाल से हमें यह पता लगता है की हमारा computer client, host server या अन्य किसी दूसरे उपकरण से communication कर रहा है या नहीं कहने का इस वक्त आपक सिस्टम आप जिस website पर है उससे जुड़ा है या नहीं

Ping meaning in hindi पिंग क्या है?

तो ऊपर हमने जाना ping का हिंदी अर्थ क्या तथा इसका फुल फॉर्म क्या है और इसका अविष्कार कब हुआ इनके बारे में अब हम बात करते हैं ping meaning in hindi पिंग क्या है इस पर 
ping एक स्टेंडर्ड software utility का नाम है जिसका इस्तेमाल  network connection test करने में किया जाता है इसका इस्तेमाल यह सुनिश्चित करने में लिए किया जा सकता है की कोई computer या अन्य devices अपने network server से जुड़ा है या नहीं और यदि जुड़ा है तो इन देनो में Latency कितनी है
पिंग tool किसी client या host के बीच में लगने वाले समय का पता लगाने के लिए ज्यादातर internet control message protocol यानि (ICMP) का इस्तेमाल करते है जिसके द्वारा client यानि आपका computer उस host network को ping request  भेजता है उसके बाद host यानी आपका network एक निश्चित समय में response देता है तो इस पिंग टूल की मदद से इन दोनों के बीच में जुड़ने का जो भी समय लगता है उसे यह टूल माप लेता है और इससे server की internet speed और bandwidth को भी आसानी से जाना जा सकता हैं

ping kaise काम करता है 

अब हम ping के कार्य के बारे में चर्चा कर लेते हैं
 जब एक ही network पर दो या दो से अधिक devices आपस में जुड़े हुए होते हैं तो उस नेटवर्क पर किसी भी system की connectivity का पता लगाने के लिए एक system से दुसरे system पर ping request भेजी जाती है और दूसरा सिस्टम खुद को दिखाने के लिए उस डिवाइस का पिंग रिक्वेस्ट स्वीकार करते हुए acknowledgement भेजता है जिससे यह पता चलता है की ये दोनों system उस network के माध्यम से एक दुसरे से आपस में जुड़े हुए हैं तो कुछ तरीके से ping काम करता है 

हम अपने device के नेटवर्क को पिंग कैसे करें How To Ping Networked Devices

अब हम अपने सिस्टम को पिंग करना सीख लेते है मैं  Windows operating system इस्तेमाल करता हूँ तो यंही से शुरू करते हैं windows सिस्टम में ping command का उपयोग करके ping test को run किया जाता है जो हमारे system में in-built होता है. अब आपको जिस भी सिस्टम या डिवाइस को पिंग करना है तो उसके लिए आपको उस device का IP Address या Hostname पता होनी चाहिये 
जब हमें किसी सिस्टम का IP Address या Hostname पता हो और उसे ping करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको अपने Windows के command prompt में ping लिखकर और host का IP Address डालकर inter प्रेस करते हैं तो उस host के पास एक ping request चला जाता है 
अब हम जानते हैं Android Phone, में ping test कैसे करते हैं तो इसके लिए आपको अपने फोन में Google Play Store से android terminal emulator डाउनलोड करना होगा एयर इस application में भी IP address  डालना होगा यदि आपको IP Address क्या है इसकी जानकारी नहीं है तो आप हमारा यह लेख जरुर पढ़ें

IP Address की मदद से कंप्यूटर को पिंग कैसे करें 

अब हम जानते हैं IP address की मदद से कंप्यूटर को पिंग कैसे करते हैं उसके लिए सबसे पहले आपको अपने computer केcommand prompt को ओपन कीजये आप इसे ओपन करने के लिए शोर्टकट की का इस्तेमाल कर सकते हैं उसके लिए Windows key + R एक साथ प्रेस करें अब यंहा run dialog box खुलकर सामने आ जायेगा अब आपको इस dialog box में ping स्पेस IP address डालना है और Enter press कर देना है हम नीचे इसे Example से समझते हैं 
192.168.1.1 इस IP Address वाले राउटर के लिए ping test को run करने का Windows command कुछ इस प्रकार होगा 

  • Ping 192.168.1.1

अब वंही किसी website का ping test  करने के लिए सिंन्टेलक्स कुछ इस प्रकार होगा

  • Ping Google.com या growthsnp.com

How to read a ping test

हमने ऊपर जो example दिया है 192.168.1.1 के लिए कुछ इस तरह देखी देगा 
जब आप  dialog box ओपन होने के बाद ping 192.168.1.1 डालकर इंटर करेंगे तो आपके सामने कुछ इस तरह का एक बॉक्स में detail निकल कर आ जाती है जो आप नीचे screenshot पर देख सकते हैं 

Ping रिजल्ट के परिणामों की व्याख्या

दिखाए गए स्क्रीनशॉट में जो रिजल्ट दिखाई दे रहा है उस रिजल्ट में विशिष्ट पिंग सेशन का रिप्लाई है जिसमें नेटवर्क का कोई भी Error नहीं है
Reply from: Microsoft Windows में एड्रेस पर ping command ,डिफाल्ट रूप से चार मेसेज की एक सिरिज भेजता है जो प्रोग्राम का यह output हर एक प्राप्त message का response होता है और जो target computer से आता है

bytes: डिफ़ॉल्ट रूप से प्रत्येक ping request, 32-बाटइ साइज़ का होता है

Time: ping request भेजने और response प्राप्त करने में लगने वाले समय को (मिलीसेकंड) में मापा जाता है
TTL (Time-to-Live): 1 और 128 की वैल्यू , TTL target तक पंहुचने से पहले ping message जितने भी अलग अलग नेटवर्क से गुजरता है यह उसका काउंट है

पिंग कमांड सिंटेक्स ping command syntex in hindi

पिंग कमांड में आप अपनी जरुरत के अनुसार कई syntex का उपयोग कर सकते हैं आइये इन्हें कुछ विस्तार से जाने वो क्या क्या है 
-t

यह target तब तक ping करता है जबतक की आप इसे Ctrl-C प्रेस करके स्टॉप नहीं करते हैं

-n

यह option ICMP भेजने के लिए, इको रिक्वेस्ट को 1 से 4294967295 तक सेट करता है यदि आप -n का इस्तेमाल नहीं करते तो default रूप से 4 request भेजे जाते हैं

-l

इस आप्शन का इस्तेमाल इको रिक्वेस्ट की साइज़,जो की बाइट्स में होती है जो 32 से 65,527 बाइट सेट करने के लिए है| यदि आप -l का इस्तेमाल नहीं करते हैं तो ping command डिफ़ॉल्ट रूप से 32-बाइट का इको request ही भेजेगा

-a 

यह पिंग कमांड आप्शन यदि संभव हो तो target IP Address के hostname को resolve करने में करेगा

ping of Death क्या है ?

यदि कोई डिवाइस जब किसी device को ping request भेजता है तो उस डिवाइस को client द्वारा 65.535 bytes पर पैकेट्स के हिसाब से भेजा जाता है पर वंही जब इससे ज्यादा bytes का packets भेज दिया जाये तो होस्ट डिवाइस या जिस device पर डाटा भेजा गया है उस पर DDoS यानी Destributed Deniel of Service अटैक हो सकता है और यह इलीगल माना जाता है 
एक बार 1997 में कुछ डिवाइस में यह देखा गया जिनमे 65.535 bytes से बड़ा packets को सैंड किया गया उन devices ने काम करना बंद कर दिया था और इसी लिए इसे नाम दिया गया ping of death का हलाकि अब यह किसी भी डिवाइस नहीं पाया जाता |
तो हमने सीखा ping क्या है, ping test कैसे करें, ping meaning in hindi के विषय पर हमें उम्मीद है जानकारी आपको हेल्फुल लगी होगी यदि जानकारी पसंद आई हो तो हमारे इस ब्लॉग को सब्सक्रइब जरुर कर ले इससे आप हमारे आने वाले नए जानकारियों का अपडेट पा सकते हैं साथ ही आप अपनी प्रतिक्रिया भी हम तक जरुर साझा करें की आपको हमारे द्वारा दिए जाने वाले जानकारी कैसे लगते हैं तथा आप और किन विषयों पर पढना चाहते हैं इनके बारे में भी बताएं

और हाँ इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करना बिलकुल भी मत भूलियेगा हो सके तो social media पर तो जरुर शेयर करें नमस्कार दोस्तों 

Leave a Comment